Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

श्रीलंका धमाके में जिहादी ग्रुप तौहीद जमात का हाथ!

प्रकाशित Mon, 22, 2019 पर 17:06  |  स्रोत : Moneycontrol.com

श्रीलंका में 21 अप्रैल को हुए बम ब्लास्ट में जिहादी ग्रुप नेशनल तौहीद जमात के हाथ होने की आशंका है। सरकार ने यह भी माना कि कई बार फॉरेन इंटेलिजेंस से इस तरह के हमले की चेतावनी मिली थी। लेकिन अथॉरिटी ने इस पर खास ध्यान नहीं दिया। हमले के बाद श्रीलंका की सरकार ने राजधानी कोलंबो में कर्फ्यू लगा दिया था। उसके बाद रविवार 21 अप्रैल की रात से इमरजेंसी घोषित कर दिया है। 


ईस्टर पर कहर


इस सीरियल बम ब्लास्ट अब तक 290 लोगों की मौत हो चुकी है और करीब 500 से ज्यादा लोग घायल हैं। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि इस घटना में लोकल ग्रुप के साथ किसी इंटरनेशनल आतंकी ग्रुप का भी हाथ हो सकता है।


श्रीलंका सरकार के फॉरेंसिक विभीषण के एक सीनियर अधिकारी ने कहा दो आत्मघाती हमलावरों ने लग्जरी शांगरीला होटल में खुद को उड़ा लिया। बाकी के तीन हमलावरों ने शहर के तीन अलग-अलग चर्च और दो बड़े होटलों को निशाना बनाया।


श्रीलंका के हेल्थ मिनिस्टर रजिता सेनरत्ने ने कहा कि पुलिस ने जिस शख्स को गिरफ्तार किया है उसका नाम भी इंटेलिजेंस रिपोर्ट में था। उन्होंने कहा कि इतना बड़ा हमला किसी लोकल ग्रुप का नहीं हो सकता। हम जांच कर रहे हैं कि इस घटना में किसी अंतरराष्ट्रीय संगठन का हाथ है या नहीं।


श्रीलंका के प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने कहा कि बार-बार चेतावनी मिलने के बावजूद अथॉरिटी ने ध्यान नहीं दिया। श्रीलंका सरकार के एक कैबिनेट मिनिस्टर हरिन फर्नांडो ने 11 अप्रैल को ट्वीट करके कहा था कि नेशनल तौहिद जमात नाम का एक ग्रुप कैथोलिक चर्च पर ब्लास्ट करने की कोशिश कर सकता है।