Moneycontrol » समाचार » विदेश

PNB Scam: भगोड़े नीरव मोदी को जल्द लाया जाएगा भारत, ब्रिटेन सरकार ने प्रत्यर्पण को दी मंजूरी

25 फरवरी को लंदन की एक अदालत ने मामले की सुनवाई करते हुए नीरव मोदी के भारत प्रत्यर्पण पर सहमति जताई थी
अपडेटेड Apr 17, 2021 पर 08:13  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पीएनबी घोटले (PNB Scam) के मुख्य आरोपी और भारत से भगोड़े नीरव मोदी (Nirav Modi) के प्रत्यर्पण को ब्रिटेन की सरकार से मंजूरी मिल गई है। जल्द ही नीरव मोदी को भारत लाया जाएगा। मोदी के भारत प्रत्यर्पण को ब्रिटेन के गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को मंजूरी दे दी। पंजाब नेशनल बैंक से करीब 2 अरब डॉलर की धोखाधड़ी के मामले में हीरा कारोबारी नीरव मोदी वांक्षित है। नीरव मोदी फिलहाल लंदन की एक जेल में बंद है।


भारत की प्रत्यर्पण की मांग पर ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीती पटेल (Priti Patel) ने सहमति जताते हुए मंजूरी दे दी है। पंजाब नेशनल बैंक को करीब 12 हजार करोड़ रुपये की चपत लगाकर लंदन में जाकर बैठने वाला नीरव मोदी वहां की कोर्ट में इस कदम से बचने की जुगत में लगा हुआ था। हालांकि, फरवरी में कोर्ट ने उसके खिलाफ पर्याप्त सबूत होने की बात मान ली थी और उसकी सभी दलीलों को खारिज कर दिया था।


25 फरवरी को लंदन की एक अदालत ने मामले की सुनवाई करते हुए नीरव मोदी के भारत प्रत्यर्पण पर सहमति जताई थी। साथ ही उसकी सभी दलीलों को खारिज करते हुए कहा था कि भारत की जेल में उसका ख्याल रखा जाएगा। दो साल से चली कानूनी लड़ाई के बाद यह फैसला आया था। हालांकि, जानकारों का कहना है कि नीरव मोदी के पास अभी अपील का रास्ता बचा हुआ है और इस आदेश को वह हाई कोर्ट में चुनौती दे सकता है।


अभी ब्रिटेन की एक जेल में कैद नीरव और अन्य के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ED) पीएनबी मनी लॉन्ड्रिंग मामले की 2018 से जांच कर रहा है। नीरव मोदी पर PNB से लोन लेकर करीब 14,000 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करने का आरोप है। घोटाला सामने आने के बाद मोदी जनवरी 2018 में भारत छोड़कर फरार हो गया था। वहीं मार्च, 2019 में गिरफ्तार किए गए नीरव मोदी पर मनी लॉन्ड्रिंग, सबूतों से छेड़छाड़ और गवाहों को डराने की साजिश रचने का आरोप है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।