Moneycontrol » समाचार » विदेश

Covid-19 के 'बहुत खतरनाक दौर' में है दुनिया, करीब 100 देशों में है डेल्टा वेरिएंट का प्रकोप, WHO ने जताई चिंता

WHO के प्रमुख टेड्रोस अधनोम घेब्रसेयस ने कहा कि डेल्टा वेरिएंट विकसित और म्यूटेट हो रहा है और ये कई देशों में Covid-19 का प्रमुख वेरिएंट बन रहा है
अपडेटेड Jul 03, 2021 पर 13:19  |  स्रोत : Moneycontrol.com

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस अधनोम घेब्रसेयस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने कहा है कि लगभग 100 देशों में ज्यादा संक्रामक डेल्टा वेरिएंट की पहचान की गई है और इसे देखते हुए कहा जाएगा कि दुनिया Covid-19 महामारी के "बहुत खतरनाक दौर" में है।


उन्होंने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि डेल्टा वेरिएंट विकसित और म्यूटेट हो रहा है और ये कई देशों में Covid-19 का प्रमुख वायरस बन रहा है। उन्होंने कहा, "मैंने पहले ही दुनियाभर के नेताओं से ये सुनिश्चित करने का आग्रह किया है कि अगले साल इस समय तक, हर देश में 70 प्रतिशत लोगों का वैक्सीनेशन कर लिया जाए।"


WHO चीफ ने कहा कि वैक्सीन की तीन अरब खुराक पहले ही वितरित की जा चुकी हैं और "यह कुछ देशों की सामूहिक शक्ति के भीतर है कि वे कदम बढ़ाएं और सुनिश्चित करें कि वैक्सीन शेयर किए जाते रहे।"


Coronavirus LIVE: पिछले 24 घंटों में आए 44,111 नए केस, 97 दिनों के बाद देश में एक्टिव केस 5 लाख से कम


विश्व स्तर पर दी जाने वाली वैक्सीन की खुराक में से दो प्रतिशत से भी कम गरीब देशों में हैं। हालांकि ब्रिटेन, अमेरिका, फ्रांस और कनाडा सहित अमीर देशों ने Covid-19 के एक अरब टीके दान करने का संकल्प लिया है। WHO का अनुमान है कि दुनिया को वैक्सीनेशन के लिए 11 अरब खुराकों की जरूरत है।


डेल्टा वेरिएंट पर 65.2% कारगर है Covaxin


वहीं भारत में हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने शनिवार सुबह बताया कि तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के फाइनल नतीजों में Covaxin की प्रभावकारिता का रिजल्ट आ गया है। medRxiv पर फाइनल और तीसरे फेज के प्री-प्रिंट डेटा शेयर करते हुए, कंपनी ने दावा किया है कि इसकी वैक्सीन सिंप्टोमेटिक इंफेक्शन के खिलाफ 77.8 फीसदी कारगर साबित हुई।


 Covaxin Final Trial Result: सिंप्टोमेटिक इंफेक्शन पर 77.8 फीसदी कारगर है टीका, डेल्ट वेरिएंट से करता है 65.2% सुरक्षा


इसने आगे कहा कि Covaxin ने गंभीर संक्रमणों के खिलाफ 93.4% प्रभावकारिता दिखाई है और B.1.617.2 (Delta) वेरिएंट के खिलाफ 65.2% सुरक्षा प्रदान करती है, जो वर्तमान में भारत में सबसे ज्यादा फैला हुआ है।


भारत में 5 लाख से कम एक्टिव केस


भारत में COVID-19 के 44,111 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 3,05,02,362 हो गई। साथ ही एक दिन में 738 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 4,01,050 हो गई है।


स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि भारत में 97 दिनों के बाद एक्टिव मामलों की संख्या 5 लाख से कम रिपोर्ट हुईं। कोरोनावायरस के सक्रिय मामले कुल मामलों के 1.62% हैं। रिकवरी रेट बढ़कर 97.06% हो गया है और डेली पॉजिटिविटी रेट 2.35% है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।