Moneycontrol » समाचार » बाजार आउटलुक- फंडामेंटल

भारतीय बाजार घरेलू दिक्कतों से टूटे: शंकर शर्मा

प्रकाशित Mon, 08, 2018 पर 13:07  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

फर्स्ट ग्लोबल के वाइस चेयरमैन और ज्वाइंट एमडी शंकर शर्मा मानते हैं कि बुल मार्केट का पता लगाना बेहद आसान है और बेयर मार्केट को समझना उतना ही मुश्किल है। उनके मुताबिक अब तक इंडिया में बेयर मार्केट के लिए ग्लोबल फैक्टर्स जिम्मेदार थे लेकिन इस बार गिरावट का दौर घरेलू दिक्कतों की वजह से आया है। गिरावट का दौर जनवरी से ही शुरू हो गया था। पिछले दो महीनों में बाजार लार्जकैप की वजह से टूटे हैं। ये बेयर मार्केट का दौर है। भारतीय बाजार की गिरावट रूटीन करेक्शन नहीं है।


शंकर शर्मा मानते हैं कि बाजार में तेज गिरावट की असली वजह आईएलएंडएफएस नहीं बल्कि क्रूड है। उनका कहना है कि रिजर्व बैंक के रुख से बाजार बेहद निराश है। बाजार चाहता है कि सरकार रुपये को संभाले। रुपया 75 के पार गया तो हालात बेकाबू हो जाएंगे।