Moneycontrol » समाचार » बाजार आउटलुक- फंडामेंटल

दिसंबर तक निफ्टी छू सकता है 17,200 का स्तर, जानिए किन सेक्टर से बनेगा पैसा

Axis Securities ने दिसंबर 2021 के लिए निफ्टी का टार्गेट बढ़ाकर 17200 कर दिया है।
अपडेटेड Mar 06, 2021 पर 10:25  |  स्रोत : Moneycontrol.com

बढ़ते बॉन्ड यील्ड और मंहगाई की चिंता के चलते भारतीय इक्विटी बाजार में उतार-चढाव देखने को मिल रहा है। फरवरी में बाजार में जोरदार खरीदारी और जोरदार बिकवाली दोनों देखने को मिली जो बाजार के सतर्क मूड का संकेत है।


भारतीय बाजार के लिए महंगाई बहुत बड़ी चिंता का विषय नहीं है लेकिन बढ़ती बॉन्ड यील्ड शार्ट टर्म इन्वेस्टर के लिए चिंता का विषय है क्योंकि ऐसे होने पर FPI भारतीय बाजारों की तुलना में अमेरिका के बाजारों को वरीयता दे सकता है जिससे रुपये में और गिरावट आ सकती है औऱ डॉलर मजबूत हो सकता है।


जानकारों का कहना है कि बाजार बॉन्ड यील्ड पर नजर रखेगा और शॉर्ट टर्म में ग्लोबल संकेतों के आधार पर काम करेगा। हालांकि बाजार का अंडरटोन मजबूत बना हुआ है। अधिकांश बाजार दिग्गज और ब्रोकरेज हाउस भारतीय इक्विटी को लेकर बुलिश है।


CNBC-TV18 की रिपोर्ट के मुताबिक  Axis Securities ने दिसंबर में निफ्टी का लक्ष्य बढ़ाकर 17200 कर दिया है। इसकी वजह दिसंबर तिमाही के मजबूत नतीजे, मजबूत स्ट्रक्चरल ट्रेंड, बाजार में लगातार आ रहा विदेशी पैसा और पॉजिटीव मार्केट सेटिमेंट है।
 
Angel Broking की ज्योति राय भी मध्यम और लंबी अवधि के नजरिए से भारतीय बाजारों पर बुलिश हैं। उन्होने कहा कि हालांकि बाजार में शॉर्ट टर्म में बाजार में उतार-चढ़ाव से इनकार नहीं किया जा सकता। किंतु वो दिसंबर तिमाही के अच्छे नतीजों, इकोनॉमी में रिकवरी के चलते, बाजार में मध्यम से मीडियम टर्म को लेकर बुलिश हैं।


CNBC-TV18 से बात करते हुए  Avendus Capital के वैभव सिघवी ने कहा कि आगे हमें अर्निग ग्रोथ  में मजबूती देखनेको मिलेगी और बाजार भी उसी के अनुरुप रिएक्ट करेगा।


कहां है निवेश के मौके


एनालिस्ट और मार्केट एक्सपर्ट की राय है कि बाजार में किसी गिरावट पर अच्छे क्वालिटी के शेयर और सेक्टर पर निवेश करना चाहिए। बाजार मध्यम और लंबी अवधि के नजरिए संभावनाओं से  भरा है।


किन सेक्टर और शेयरों पर है दिग्गजों की नजर


Reliance Securities के Binod Modi की पसंद


Infrastructure, industrials, engineering, building materials, banks और चुनिंदा auto stocks।


ICICI Direct के Pankaj Pandey की पंसद


IT और pharma।


Kotak Securities की Rusmik Oza की पसंद


Insurance, banking, infrastructure/construction, FMCG, utilities (both power & gas) और metals।



HDFC Securities के Deepak Jasani की पसंद


Metals, chemicals, engineering/capital goods, mid-sized NBFCs, sugar, paper। इसके अलावा दीपक जसानी की राय है कि पीएसयू सेक्टर की वो स्टोरी आगे काफी अच्छी चलेगी जिनमें वैल्यू अनलॉकिंग हो रही है।


Angel Broking की Jyoti Roy की पसंद


BFSI, building materials, cement, infrastructure, chemicals, IT, pharma और  tractors में निवेश की सलाह है। ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि आगे  BFSI, building materials, cement और infrastructure रैली के अगले दौर को लीड करेंगे।


Geojit Financial Services के VK Vijayakumar की पसंद


IT, financials, cement, metals, chemicalS और चुनिंदा  autos शेयर में निवेश की सलाह है। इनका कहना है कि प्राइवेटाइजेशन पर सरकार के बोल्ड कदम से पीएसयू शेयरों में जोरदार एक्शन देखने को मिल रहा है। इनमें ट्रेडिंग का अच्छा मौका है।


मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को मनी कंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सार्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।