Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

गौर करें, इन शेयरों में आज जरूर रहेगी हलचल

यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।
अपडेटेड May 05, 2017 पर 08:08  |  स्रोत : Moneycontrol.com

शेयरों की हर हलचल पर पैनी नजर रखकर अपने निवेश को सुरक्षित जरूर किया जा सकता है। यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।


कोल इंडिया


कोल इंडिया की लंदन स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टिंग के लिए बातचीत जारी है।


सेल


सेल की 5000 करोड़ रुपये के ऑटो-ग्रेड स्टील प्लांट लगाने की योजना है। सेल ने स्टील प्लांट के लिए आर्सेलर मित्तल से हाथ मिलाया है। बताया जा रहा है कि इस महीने डील पर फैसला संभव है।


ओएनजीसी / केर्न इंडिया / जेट एयरवेज / स्पाइसजेट / इंटरग्लोब एविएशन


अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में 4 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट से इन शेयरों पर आज असर दिखेगा।


ओबेरॉय रियल्टी


वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में ओबेरॉय रियल्टी का मुनाफा 50.4 फीसदी बढ़कर 102 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में ओबेरॉय रियल्टी का मुनाफा 68 करोड़ रुपये रहा था। साल दर साल आधार पर जनवरी-मार्च तिमाही में ओबेरॉय रियल्टी की आय 230 करोड़ रुपये से 25.9 फीसदी बढ़कर 290 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है।


सालाना आधार पर जनवरी-मार्च तिमाही में ओबेरॉय रियल्टी का एबिटडा 107 करोड़ रुपये से बढ़कर 152 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर जनवरी-मार्च तिमाही में ओबेरॉय रियल्टी का एबिटडा मार्जिन 46.5 फीसदी से बढ़कर 52.3 फीसदी रहा है।


वॉकहार्ट


वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में वॉकहार्ट को 174.7 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। वित्त वर्ष 2016 की चौथी तिमाही में वॉकहार्ट को 5.4 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में वॉकहार्ट की आय 14.5 फीसदी घटकर 863.5 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2016 की चौथी तिमाही में वॉकहार्ट की आय 1010.3 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर जनवरी-मार्च तिमाही में वॉकहार्ट को 164.3 करोड़ रुपये का एबिटडा घाटा हुआ है। पिछले साल की समान अवधि में कंपनी का एबिटडा 65.3 करोड़ रुपये रहा था। सालाना आधार पर जनवरी-मार्च तिमाही में वॉकहार्ट की अन्य आय 17.8 करोड़ रुपये से बढ़कर 56.3 करोड़ रुपये रही है। वॉकहार्ट के बोर्ड ने इक्विटी इश्यू के जरिए 1000 करोड़ रुपये तक जुटाने की मंजूरी दे दी है।