Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

खबरों वाले शेयर, इनमें जरूर होगी हलचल

यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।
अपडेटेड May 25, 2018 पर 08:10  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शेयरों की हर हलचल पर पैनी नजर रखकर अपने निवेश को सुरक्षित जरूर किया जा सकता है। यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।


यूनाइटेड स्पिरिट्स


वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में यूनाइटेड स्पिरिट्स को 211 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में यूनाइटेड स्पिरिट्स को 104 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। वहीं, वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में यूनाइटेड स्पिरिट्स की आय 7.3 फीसदी बढ़कर 2,173.3 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में यूनाइटेड स्पिरिट्स की आय 2,025 करोड़ रुपये रही थी।


साल दर साल आधार पर चौथी तिमाही में यूनाइटेड स्पिरिट्स का एबिटडा 260.9 करोड़ रुपये से बढ़कर 273 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर चौथी तिमाही में यूनाइटेड स्पिरिट्स का एबिटडा मार्जिन 12.9 फीसदी से घटकर 12.6 फीसदी रहा है।


यूनाइटेड ब्रुअरीज


वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में यूनाइटेड ब्रुअरीज का मुनाफा 13.6 गुना बढ़कर 90.9 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में यूनाइटेड ब्रुअरीज का मुनाफा 6.7 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में यूनाइटेड ब्रुअरीज की आय 32 फीसदी बढ़कर 1,474 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में यूनाइटेड ब्रुअरीज की आय 1,116.9 करोड़ रुपये रही थी।


साल दर साल आधार पर चौथी तिमाही में यूनाइटेड ब्रुअरीज का एबिटडा 105.3 करोड़ रुपये से बढ़कर 213 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर चौथी तिमाही में यूनाइटेड ब्रुअरीज का एबिटडा मार्जिन 9.4 फीसदी से बढ़कर 14.5 फीसदी रहा है।


पिडिलाइट इंडस्ट्रीज


वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में पिडिलाइट इंडस्ट्रीज का मुनाफा 57.5 फीसदी बढ़कर 247.5 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में पिडिलाइट इंडस्ट्रीज का मुनाफा 157.2 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में पिडिलाइट इंडस्ट्रीज की आय 14.7 फीसदी बढ़कर 1,485.3 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में पिडिलाइट इंडस्ट्रीज की आय 1,295.4 करोड़ रुपये रही थी।


साल दर साल आधार पर चौथी तिमाही में पिडिलाइट इंडस्ट्रीज का एबिटडा 258.7 करोड़ रुपये से बढ़कर 273.9 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर चौथी तिमाही में पिडिलाइट इंडस्ट्रीज का एबिटडा मार्जिन 20 फीसदी से घटकर 18.4 फीसदी रहा है।


पीएनसी इंफ्रा


पीएनसी इंफ्रा को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के लिए 1,738 करोड़ रुपये का ऑर्डर मिला है।


गुजरात अल्काली


वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में गुजरात अल्काली का मुनाफा 2.5 गुना बढ़कर 221 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में गुजरात अल्काली का मुनाफा 87 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में गुजरात अल्काली की आय 31 फीसदी बढ़कर 697 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में गुजरात अल्काली की आय 531 करोड़ रुपये रही थी।


साल दर साल आधार पर चौथी तिमाही में गुजरात अल्काली का एबिटडा 108.4 करोड़ रुपये से बढ़कर 292.8 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर चौथी तिमाही में गुजरात अल्काली का एबिटडा मार्जिन 20.4 फीसदी से बढ़कर 42 फीसदी रहा है।


सुदर्शन केमिकल


वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में सुदर्शन केमिकल का मुनाफा 31 फीसदी बढ़कर 22.8 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में सुदर्शन केमिकल का मुनाफा 17.3 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में सुदर्शन केमिकल की आय 28.6 फीसदी बढ़कर 377 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में सुदर्शन केमिकल की आय 293 करोड़ रुपये रही थी।


साल दर साल आधार पर चौथी तिमाही में सुदर्शन केमिकल का एबिटडा 33 करोड़ रुपये से बढ़कर 48.6 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर चौथी तिमाही में सुदर्शन केमिकल का एबिटडा मार्जिन 11.2 फीसदी से बढ़कर 12.9 फीसदी रहा है।