Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

शेयर जिन पर होगी बाजार की नजर

प्रकाशित Tue, 30, 2018 पर 08:42  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शेयरों की हर हलचल पर पैनी नजर रखकर अपने निवेश को सुरक्षित जरूर किया जा सकता है। यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।


बीपीसीएल


वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में बीपीसीएल का मुनाफा 46.9 फीसदी बढ़कर 1,218.7 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में बीपीसीएल का मुनाफा 2,293.3 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में बीपीसीएल की आय 71,696.9 करोड़ रुपये से बढ़कर 72,291.8 करोड़ रुपये रही है।


तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में बीपीसीएल का एबिटडा 3,875.2 करोड़ रुपये से घटकर 2,419.4 करोड़ रुपये रहा है। तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में बीपीसीएल का एबिटडा मार्जिन 5.4 फीसदी से घटकर 3.4 फीसदी रहा है। तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में बीपीसीएल का ग्रॉस रिफाइनिंग मार्जिन 7.49 डॉलर प्रति बैरल से घटकर 5.57 डॉलर प्रति बैरल रहा है।


ग्रैन्युएल्स इंडिया


वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में ग्रैन्युएल्स इंडिया का मुनाफा 49.4 फीसदी बढ़कर 60.2 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में ग्रैन्युएल्स इंडिया का मुनाफा 40.3 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में ग्रैन्युएल्स इंडिया की आय 48 फीसदी बढ़कर 580.8 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में ग्रैन्युएल्स इंडिया की आय 392.5 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में ग्रैन्युएल्स इंडिया का एबिटडा 76.8 करोड़ रुपये से बढ़कर 100.4 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में ग्रैन्युएल्स इंडिया का एबिटडा मार्जिन 19.6 फीसदी से घटकर 17.3 फीसदी रहा है।


फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज


वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज का मुनाफा 2.7 गुना बढ़कर 76.4 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज का मुनाफा 28.2 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज की आय 14.2 फीसदी बढ़कर 542.6 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज की आय 475.3 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज का एबिटडा 185.7 करोड़ रुपये से बढ़कर 274.1 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज का एबिटडा मार्जिन 39 फीसदी से बढ़कर 50.5 फीसदी रहा है।


एचडीएफसी एएमसी


वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में एचडीएफसी एएमसी का मुनाफा 14.5 फीसदी बढ़कर 205.9 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में एचडीएफसी एएमसी का मुनाफा 179.8 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में एचडीएफसी एएमसी की आय 12 फीसदी बढ़कर 480.4 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में एचडीएफसी एएमसी की आय 430 करोड़ रुपये रही थी।


बैंकिंग सेक्टर


भारत-जापान के बीच 75 अरब डॉलर का स्वैप समझौता हुआ है। स्वैप समझौते से रुपये की गिरावट पर लगाम संभव है। साथ ही जापान से निवेश बढ़ने की उम्मीद है। भारतीय कंपनियों के लिए फंड लागत घटने की भी उम्मीद है।