Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

खबरों वाले शेयर, न रहें बेखबर

यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।
अपडेटेड Dec 18, 2018 पर 08:58  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शेयरों की हर हलचल पर पैनी नजर रखकर अपने निवेश को सुरक्षित जरूर किया जा सकता है। यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।


जेट एयरवेज


जेट एयरवेज के चुनिंदा ट्रांजैक्शन का फॉरेंसिक ऑडिट चल रहा है। एसबीआई के निर्देश के मुताबिक फॉरेंसिक जांच हो रही है। इसमें अप्रैल 2014 से मार्च 2018 के दौरान हुए लेनदेन की जांच की जा रही है। जेट एयरवेज ने कहा है कि कंपनी ऑडिटर्स के साथ सहयोग कर रही है।


आईओसी


फिच ने कंपनी की आर्थिक सेहत पर नोट जारी किया है जिमें कहा गया है कि बायबैक और डिविडेंड का कंपनी की आर्थिक सेहत पर खास असर नहीं होगा।


ग्रेफाइट इंडिया को मंजूरी


ग्रेफाइट इंडिया के बंगलुरु इलेक्ट्रोड प्लांट का लाइसेंस रिन्यू हुआ है। जून 2020 तक प्लांट के ऑपरेशन की मंजूरी मिल गई है। कर्नाटक प्रदूषण बोर्ड से सशर्त मंजूरी मिली है। प्लांट को मौजूदा जगह से शिफ्ट करना होगा।


अशोक बिल्डकॉन


अशोक बिल्डकॉन को निवेशक मिल गया है। मॉर्गन स्टैनली इंडिया कंपनी की सब्सिडियरी में 150 करोड़ रुपये निवेश करेगी। ये गैस डिस्ट्रीब्यूशन कारोबार में निवेश का प्रस्ताव है। कंपनी को गैस डिस्ट्रीब्यूशन के 2 लाइसेंस मिले हैं। रत्नागिरी में इसका गैस डिस्ट्रीब्यून का ऑपेशन भी शुरू हो गया है।


केयर रेटिंग


केयर रेटिंग में हिस्सा बिका है। पाबराई इनवेस्टमेंट फंड ने ओपन मार्केट में कंपनी में 2.43 फीसदी हिस्सा बेचा है। कंपनी में  पाबराई इनवेस्टमेंट का हिस्सा 9.57 फीसदी से घटकर 7.14 फीसदी हो गया है।


मेथनॉल पर बढ़ा फोकस


सरकार मेथनॉल के इस्तेमाल को बढ़ावा दे सकती है। 2-3 माह में नेशनल मेथनॉल पॉलिसी का एलान संभव है। पॉलिसी में मेथनॉल प्रोडक्शन बढ़ाने पर फोकस होगा। कुकिंग गैस के लिए मेथनॉल का इस्तेमाल भी संभव है।


इंफीबीम


इंफीनियम ग्लोबल और सुविधा इंफोसर्व करार को मंजूरी मिल गई है जिसके तहत सुविधा इंफोसर्व में 25 करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा।


बॉम्बे डाइंग


बॉम्बे डाइंग 31 दिसंबर को इंडोनेशिया में घाटे वाली यूनिट बंद करेगी।


चीनी मिलों के खिलाफ कार्रवाई


गन्ना किसानों का बकाया नहीं चुकाने के मामले में यूपी सरकार ने चीनी मिलों के खिलाफ रिकवरी सर्टिफिकेट जारी किया है। इसमें बजाज हिन्दुस्तान और सिंभावली शुगर का नाम भी शामिल है।