Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

खबरों वाले शेयर, इन पर बनी रहे नजर

यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।
अपडेटेड Jan 24, 2019 पर 09:15  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शेयरों की हर हलचल पर पैनी नजर रखकर अपने निवेश को सुरक्षित जरूर किया जा सकता है। यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।
 
यूएसएल


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में यूएसएल का मुनाफा 43 फीसदी बढ़कर 192.4 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में यूएसएल का मुनाफा 134.7 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में यूएसएल की आय 10.5 फीसदी बढ़कर 2500 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में यूएसएल की आय 2263 करोड़ रुपये रही थी। तीसरी तिमाही में कंपनी की ग्रॉस मार्जिन 47 फीसदी पर सपाट रही है।


सालाना आधार पर तीसरी तिमाही में यूएसएल का एबिटडा 272 करोड़ रुपये से बढ़कर 347.8 करोड़ रुपये रहा है। वहीं, एबिटडा मार्जिन 12.03 फीसदी से बढ़कर 13.9 फीसदी रहा है।


इंडिगो


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में इंडिगो का मुनाफा 76.4 फीसदी घटकर 5.3 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में इंडिगो का मुनाफा 22.7 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में इंडिगो की आय 5.6 फीसदी घटकर 262.6 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में इंडिगो की आय 278.1 करोड़ रुपये रहा थी।


सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में इंडिगो की एबिटडा 43.2 करोड़ रुपये से घटकर 24.8 करोड़ रुपये रही है। साल दर साल आधार पर वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में इंडिगो की एबिटडा मार्जिन 15.5 फीसदी से बढ़कर 9.4 फीसदी रही है।


पिडीलाइट


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में पिडीलाइट का मुनाफा 8.2 फीसदी घटकर 219.56 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में पिडीलाइट का मुनाफा 239.1 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में पिडीलाइट की आय 19.8 फीसदी बढ़कर 1848.3 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में पिडीलाइट की आय 1542.9 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर तीसरी तिमाही में पिडीलाइट का एबिटडा 370.3 करोड़ रुपये से घटकर 338.2 करोड़ रुपये रहा है। वहीं, एबिटडा मार्जिन 24.1 फीसदी से गिरकर 18.3 फीसदी रहा है।


भारती इंफ्राटेल


भारती इंफ्राटेल का तीसरी तिमाही में मुनाफा 600 करोड़ रुपये से बढ़कर 648 करोड़ रुपये और आय 3668 करोड़ रुपये से घटकर 3640 करोड़ रुपये रहा (तिमाही दर तिमाही आधार पर) है। भारती इंफ्राटेल का तीसरी तिमाही में एबिटडा 1506 करोड़ रुपये से बढ़कर 1513 करोड़ रुपये और एबिटडा मार्जिन 41.1 फीसदी से बढ़कर 41.6 फीसदी (तिमाही आधार पर) रहा है।


रतनमणि मेटल्स
 
कोटक महिंद्रा एमएफ ने रतनमणि मेटल्स में 780 रुपये प्रति शेयर के भाव पर 1.48 फीसदी हिस्सा खरीदा है। जबकि नालंदा इंडिया फंड ने 1.67 फीसदी हिस्सा बेचा है।


हैथवे केबल 


राजस्थान ग्लोबल सिक्योरिटीज ने हैथवे केबल में 5 फीसदी हिस्सा खरीदा है। कंपनी में राजस्थान ग्लोबल सिक्योरिटीज का हिस्सा बढ़कर 6.23 फीसदी हो गया है।


बायर कॉर्प


आदित्य बिड़ला सन लाइफ एमएफ ने बायर कॉर्प में 2 फीसदी हिस्सा खरीदा है। कंपनी में आदित्य बिड़ला सन लाइफ एमएफ का हिस्सा बढ़कर 7.03 फीसदी हो गया है।


टाटा ग्लोबल/सीसीएल प्रोडक्टकॉफी बोर्ड ने देश में कॉफी प्रोडक्शन अनुमान घटाया है। अनुमान है कि अक्टूबर-सितंबर में काफी प्रोडक्शन 16 फीसदी घट सकता है। प्रोडक्शन पर कर्नाटक, केरल में भारी बारिश का असर दिख सकता है।