Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

खबरों वाले शेयर, इनसे न चूके नजर

प्रकाशित Wed, 13, 2019 पर 08:01  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शेयरों की हर हलचल पर पैनी नजर रखकर अपने निवेश को सुरक्षित जरूर किया जा सकता है। यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।
 
कोल इंडिया


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में कोल इंडिया की बिक्री 15.4 फीसदी बढ़कर 25045 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में कोल इंडिया की बिक्री 21707 करोड़ रुपये रही थी।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में कोल इंडिया की ऑपरेटिंग प्रॉफिट 55 फीसदी बढ़कर 6787 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में कोल इंडिया की ऑपरेटिंग प्रॉफिट 4380.45 करोड़ रुपये रही थी।


सन फार्मा


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में सन फार्मा को 1,241.8 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है जबकि वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में सन फार्मा को 321.6 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में सन फार्मा की आय 6.3 फीसदी बढ़कर 7,740.2 करोड़ रुपये हो गयी है। वित्त वर्ष 2018 की तिमाही में सन फार्मा की आय 6,653.2 करोड़ रुपये रही थी।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में सन फार्मा का एबिटडा 1,453.3 करोड़ रुपये से बढ़कर 2,152.9 करोड़ रुपये रहा है। साल दल साल आधार पर सन फार्मा का एबिटडा मार्जिन 21.8 फीसदी से बढ़कर 27.8 फीसदी हो गया है।


ऑयल इंडिया


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में ऑयल इंडिया का मुनाफा 43.1 फीसदी बढ़कर 1233.4 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में ऑइल इंडिया का मुनाफा 862 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में ऑइल इंडिया की आय 6.1 फीसदी घटकर 3514 करोड़ रुपये हो गयी है। वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में ऑइल इंडिया की आय 3743.6 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही आधार पर वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में ऑइल इंडिया का एबिटडा 1451.3 करोड़ रुपये से बढ़कर 1512.5 करोड़ रुपये हो गया है। तिमाही दर तिमाही आधार पर वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में ऑइल इंडिया का एबिटडा मार्जिन 31.8 फीसदी से बढ़कर 43.3 फीसदी हो गया है।


फोकस में प्रॉपर्टी शेयर


20 फरवरी को जीएसटी काउंसिल की बैठक होगी जिसमें अंडर कंस्ट्रक्शन प्रॉपर्टी पर जीएसटी पर फैसला संभव है।


बाटा


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में बाटा का मुनाफा 51.4 फीसदी बढ़कर 103.2 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2018 की तिमाही में बाटा का मुनाफा 68.1 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में बाटा की आय 5.5 फीसदी बढ़कर 778.7 करोड़ रुपये हो गयी है। वित्त वर्ष 2018 की तिमाही में बाटा की आय 674 करोड़ रुपये रही थी।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में बाटा का एबिटडा 111.5 करोड़ रुपये से बढ़कर 163.6 करोड़ रुपये रहा है। साल दल साल आधार पर बाटा का एबिटडा मार्जिन 16.5 फीसदी से बढ़कर 21 फीसदी हो गया है।


रिलायंस पावर/रिलायंस इंफ्रा 


आईडीबीआई ट्रस्टीशिप ने रिलायंस पावर के 8.6 करोड़ शेयर बेचे हैं। डिबेंचर पेमेंट डिफॉल्ट की वजह से ये गिरवी शेयर बेचे गए हैं। रिलायंस इंफ्रा और रिलायंस प्रोजेक्ट ने ये डिबेंचर जारी किए थे।


आरसीएफ


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में आरसीएफ को 49.9 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में आरसीएफ को 17.9 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में आरसीएफ की आय 19.5 बढ़कर 2353.5 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में आरसीएफ की आय 1969 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर तीसरी तिमाही में आरसीएफ का एबिटडा 110.8 करोड़ रुपये से बढ़कर 127.7 करोड़ रुपये रहा है। वहीं, एबिटडा मार्जिन 5.6 फीसदी से घटकर 5.4 फीसदी रहा है। सालाना आधार पर तीसरी तिमाही में आरसीएफ की ब्याज लागत 9 करोड़ रुपये से बढ़कर 26.7 करोड़ रुपये हो गई है।


नैटको फार्मा


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में नैटको फार्मा का मुनाफा 25.4 फीसदी घटकर 1622 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में नैटको फार्मा का मुनाफा 217.3 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में नैटको फार्मा की आय 1.6 फीसदी घटकर 531.9 करोड़ रुपये हो गयी है। वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में नैटको फार्मा की आय 540.3 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में नैटको फार्मा का एबिटडा 286.2 करोड़ रुपये से घटकर 210.4 करोड़ रुपये हो गया है। साल दर साल आधार पर वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में नैटको फार्मा का एबिटडा मार्जिन 52.9 फीसदी से घटकर 39.5 फीसदी हो गया है।


एलेंबिक


एलेंबिक के फेनोफाइब्रेट (Fenofibrate) टैबलेट को यूएसएफडीए से मंजूरी मिल गई है।