Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

खबरों वाले शेयर, इनसे आज न चूके नजर

प्रकाशित Fri, 15, 2019 पर 08:31  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शेयरों की हर हलचल पर पैनी नजर रखकर अपने निवेश को सुरक्षित जरूर किया जा सकता है। यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।


माइंडट्री/एलएंडी


सूत्रों के हवाले से मिली खबरों के मुताबिक एलएंडी माइंडट्री में हिस्सा खरीद सकता है। एलएंडटी कंपनी में वी जी सिद्धार्थ का हिस्सा खरीद सकता है। 981 रुपये प्रति शेयर के भाव पर 24.4 फीसदी हिस्से की खरीदारी हो सकती है। सूत्रों के मुताबिक एलएंडटी 18 मार्च तक वी जी सिद्धार्थ से करार कर सकता है। एलएंडटी ओपन ऑफर से हिस्सा और बढ़ा सकता है। हालंकि एलएंडटी ने इन खबरों पर टिप्पणी से इनकार किया है।


जुबिलेंट फूडवर्क्स


कंपनी के प्रोमोटर ने 39.59 लाख शेयर 1312 रुपये के भाव पर बेचे हैं। घरेलू और विदेशी संस्थागत निवेशकों ने ये खरीदारी की है।


उज्जीवन/इक्विटास/एयू स्मॉल फाइनेंस


आरबीआई गवर्नर की आज स्मॉल फाइनेंस बैंकों के साथ बैठक है।


फोकस में रिलायंस इंफ्रा


एलआईसी ने कंपनी के 54.9 लाख शेयर बेचे हैं। कंपनी में एलआईसी की हिस्सेदारी घटकर 3.3 फीसदी हो गई है।


फोकस में सन फार्मा 


प्रोमोटर ने 6 मार्च को सन फार्मा के 41 लाख शेयर गिरवी रखे हैं।


फोकस में स्ट्राइड्स फार्मा


बजाज फाइनेंस ने कंपनी में हिस्सा घटाया है। कंपनी में बजाज फाइनेंस का हिस्सा 3.49 फीसदी से घटाकर 1.74 फीसदी हो गया है।


एचयूएल


एफएमसीजी कंपनी यूनिलिवर में मैनेजमेंट स्तर पर बड़े बदलाव हुए हैं। नितिन परांजपे को यूनिलिवर में नया चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर नियुक्त किया गया है। नितिन परांजपे अभी कंपनी में फूड एंड रिफ्रेशमेंट सेगमेंट के प्रेसिडेंट हैं। नितिन परांजपे पहले हिंदुस्तान यूनिलिवर के सीईओ भी रह चुके हैं। इसके अलावा यूनिलिवर के सीएमडी संजीव मेहता को कंपनी में दक्षिण एशिया कारोबार के प्रेसिडेंट की जिम्मेदारी भी सौंपी गई है।


कोल इंडिया का डिविडेंड


कंपनी ने 5.85 प्रति शेयर का दूसरा अंतरिम डिडिवेंड दिया है।


टाइड वॉटर का डिविडेंड


कंपनी 85 रुपये प्रति शेयर का दूसरा अंतरिम डिविडेंड देगी।


आरआईएल-ब्रुकफील्ड के बीच डील


रिलायंस इंडस्ट्रीज का ईस्ट वेस्ट पाइपलाइन ब्रुकफील्ड खरीदेगी। इस पाइपलाइन को चलाने वाली रिलायंस की कंपनी पाइपलाइन इंफ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड पीआईपीएल में ब्रुकफील्ड अपने इंडिया इंवेस्टमेंट ट्रस्ट के जरिए 13 हजार करोड़ का निवेश करेगी और पीआईपीएल का 100 फीसदी हिस्सा खरीदेगी। रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुताबिक पीआईपीएल ब्रुकफील्ड के पास जाने के बाद भी रिलायंस के पास ईस्ट वेस्ट पाइपलाइन से गैस ट्रांसपोर्ट करने का अधिकार रहेगा। इसके अलावा पीआईपीएल की कमाई में भी रिलायंस का बड़ा हिस्सा होगा। 1400 किलोमीटर लंबी ईस्ट वेस्ट पाइपलाइन आंध्र के काकीनाड़ा से गुरात के भरूच तक जाती है।