Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

खबरों वाले शेयर, इनसे न चूके नजर

यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।
अपडेटेड Apr 30, 2019 पर 09:00  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शेयरों की हर हलचल पर पैनी नजर रखकर अपने निवेश को सुरक्षित जरूर किया जा सकता है। यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।


एलएंडटी फाइनेंस


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में एलएंडटी फाइनेंस का मुनाफा सालाना आधार पर 70.7 फीसदी बढ़कर 548 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में एलएंडटी फाइनेंस की ब्याज आय 30 फीसदी बढ़कर 1214 करोड़ रुपये हो गई है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में एलएंडटी फाइनेंस की ब्याज आय 934 करोड़ रुपये रही थी।


यस बैंक


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में यस बैंक को 1,506.6 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में यस बैंक को 1,179.4 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में यस बैंक की ब्याज आय 16.3 फीसदी बढ़कर 2,505.9 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में यस बैंक की ब्याज आय 2,154.3 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में यस बैंक का ग्रॉस एनपीए 2.1 फीसदी से बढ़कर 3.22 फीसदी और नेट एनपीए 1.18 फीसदी से बढ़कर 1.86 फीसदी रहा है।


रुपये में देखें तो तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में यस बैंक का ग्रॉस एनपीए 5,158.6 रुपये से बढ़कर 7,882.5 करोड़ रुपये और नेट एनपीए 2,876.3 करोड़ रुपये से बढ़कर 4,484.8 करोड़ रुपये रहा है।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में यस बैंक की प्रॉविजनिंग 550.2 करोड़ रुपये से बढ़कर 3,661.7 करोड़ रुपये रही है जबकि पिछले साल की चौथी तिमाही में यस बैंक की प्रॉविजनिंग 399.6 करोड़ रुपये रही थी।


हीरो मोटो वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में हीरो मोटो का मुनाफा घटकर 730 करोड़ रुपये हो गया है जबकि वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में हीरो मोटो का मुनाफा 967 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में हीरो मोटो की आय घटकर 7885 करोड़ रुपये हो गई है जबकि वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में हीरो मोटो की आय 8564 करोड़ रुपये रही थी। मैनेजमेंट ने शेयरधारकों को 32 रुपये प्रति शेयर का अंतिम डिवडेंड देने का एलान किया।


बैंक ऑफ महाराष्ट्रा


बैंक ऑफ महाराष्ट्रा ने चौथी तिमाही के नतीजे पेश कर दिए है। चौथी तिमाही में बैंक घाटे से मुनाफे में आया है। वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ महाराष्ट्रा को 72.38 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है जबकि वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ महाराष्ट्रा को 114 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ महाराष्ट्रा की ब्याज आय 1000  करोड़ रुपये रही है जबकि वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ महाराष्ट्रा की ब्याज आय 881 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में बैंक ऑफ महाराष्ट्रा का ग्रॉस एनपीए 17.31 फीसदी से घटकर 16.4 फीसदी और नेट एनपीए 5.91 फीसदी से घटकर 5.52 फीसदी रहा है।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में बैंक ऑफ महाराष्ट्रा की प्रॉविजनिंग 4422 करोड़ रुपये से घटकर 415 करोड़ रुपये रही है।


परसिस्टेंट सिस्टम्स


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में परसिस्टेंट सिस्टम्स का मुनाफा 7.6 फीसदी घटकर 84.47 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में परसिस्टेंट सिस्टम्स का मुनाफा 91.7 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में परसिस्टेंट सिस्टम्स की आय 3.7 फीसदी घटकर 831.8 करोड़ रुपये हो गई है। वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में परसिस्टेंट सिस्टम्स की आय 864.2 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही दर तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में परसिस्टेंट सिस्टम्स का एबिटडा 130.6 करोड़ रुपये से घटकर 88.8 करोड़ रुपये रहा है। तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में परसिस्टेंट सिस्टम्स का एबिटडा मार्जिन 15 फीसदी से घटकर 11 फीसदी रही है।


टीवीएस मोटर


कंपनी की सिंगापुर आर्म अमेरिका की Altizon Inc में 25 लाख डॉलर का निवेश करेगी।


सन फार्मा


सन फार्मा को बर्थ कंट्रोल की दवा Medroxyprogesterone Acetate के लिए यूएस एफडीए से मंजूरी मिली है।
 


अजंता फार्मा


अजंता फार्मा को बैक्टीरियल इंफेक्शन की दवा Clarithromycin के लिए  यूएस एफडीए से मंजूरी मिली है।