इस वित्त वर्ष में 10% से अधिक रहेगी देश की GDP ग्रोथ रेट: मुख्य आर्थिक सलाहकार

इस वित्त वर्ष में 10% से अधिक रहेगी देश की GDP ग्रोथ रेट: मुख्य आर्थिक सलाहकार

आर्थिक सलाहकार को उम्मीद, बढ़ती मांग और मजबूत बैंकिंग सेक्टर के दम पर देश की GDP ग्रोथ रेट दहाई अंक में रहेगी

अपडेटेड Nov 30, 2021 पर 9:45 PM | स्रोत : Moneycontrol.comमुख्य आर्थिक सलाहकार को उम्मीद, दहाई अंक में रहेगी GDP

भारत सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार (Chief Economic Advisor) के वी सुब्रमण्यम (K.V. Subramanian) ने मंगलवार को उम्मीद जताई कि बढ़ती मांग और मजबूत बैंकिंग सेक्टर के दम पर मौजूदा वित्त वर्ष में देश की GDP ग्रोथ रेट दहाई अंक में रहेगी।

सुब्रमण्यम ने मौजूदा वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के GDP (ग्रॉस डोमेस्टिक प्रोडक्ट) आंकड़े जारी होने के मौके पर कहा कि कई पहलुओं से आर्थिक वृद्धि को मजबूती मिल रही है और वर्ष 2021-22 के अंत में इसके दहाई अंक में रहने की उम्मीद है।

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान देश की GDP ग्रोथ रेट 8.4 फीसदी रही और अर्थव्यवस्था कोविड-पूर्व के स्तर से आगे निकल गई। सुब्रमण्यम के मुताबिक, वृद्धि का यह सिलसिला आगे भी कायम रहने की संभावना है। उन्होंने वर्ष 2022-23 में वृद्धि दर के 6.5-7 फीसदी रहने और उसके बाद भी तेजी का दौर बने रहने की उम्मीद जताई।

उन्होंने कहा कि दूसरी पीढ़ी के सुधारों की मदद से इस दशक में भारत की वृद्धि दर सात प्रतिशत से अधिक रह सकती है। राजकोषीय घाटे के बारे में सुब्रमण्यम ने उम्मीद जताई कि देश मौजूदा वित्त वर्ष में इसे जीडीपी के 6.8 प्रतिशत पर सीमित रखने के लक्ष्य को हासिल कर लेगा।

बता दें कि सरकार ने मंगलवार को मौजूदा वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के जीडीपी आंकड़े जारी किए। सरकार ने बताया कि दूसरी तिमाही में भारत का ग्रॉस डोमेस्टिक प्रोडक्ट (GDP) 8.4 पर्सेंट की दर से बढ़ा है। पिछले वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में कोरोना महामरी के चलते GDP ग्रोथ में 7.4 पर्सेंट की कमी देखी गई थी। भारत के मुकाबले चीन की GDP ग्रोथ रेट 2021 की जुलाई-सितंबर तिमाही में 4.9 फीसदी रही।

MoneyControl News

MoneyControl News

First Published: Nov 30, 2021 9:45 PM