ITR देरी से भरने पर देने पड़ सकते हैं कई जुर्माने, जानें इसे जुड़े नियम

ITR देरी से भरने पर देने पड़ सकते हैं कई जुर्माने, जानें इसे जुड़े नियम

वित्त वर्ष 2020-21 के लिए ITR भरने की डेडलाइन 31 दिसंबर तक बढ़ा दी गई है

अपडेटेड Sep 16, 2021 पर 7:29 PM | स्रोत : Moneycontrol.com

प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है कि वह हर साल समय पर इनकम टैक्स का भुगतान करे। अगर कोई करदाता तय समयसीमा के अंदर इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) नहीं भरता है, तो उसे पेनाल्टी देनी पड़ सकती है।

ITR भरने की डेडलाइन चूकने पर मुख्यतौर पर दो तरह की पेनाल्टी यानी की जुर्माना देना पड़ता है। यहां हम इन दोनों पेनाल्टी के बारे में बता रहे हैं:


फाइनेंशियल ईयर 2020-21 की इनकम टैक्स रिटर्न भरने की लिए इन डॉक्युमेंट्स की होगी जरूरत

ITR देरी से भरने पर जुर्माना

सेंट्र्ल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज (CBDT) ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए ITR भरने की डेडलाइन 31 दिसंबर 2021 तक बढ़ा दी है। इस डेडलाइन के बीतने के बाद ITR भरने पर 5,000 रुपये का जुर्माना देना पड़ेगा।

पिछले साल तक यह जुर्माने की राशि 10,000 रुपये थी, लेकिन इस साल से इसे घटाकर 5,000 रुपये कर दिया गया है। पिछले वित्त वर्ष तक यह नियम था कि 1 अगस्त से 31 दिसंबर के बीच अगर कोई देरी से ITR भरता है तो उसे 5,000 रुपये जुर्माना देना होगा। वहीं 31 दिसंबर से 31 मार्च के बीच अगर कोई देरी से ITR भरता है तो उसे 10,000 रुपये का जुर्माना देना होगा।

हालांकि मौजूदा असेसमेंट ईयर से देरी से ITR भरने पर जुर्माने की अधिकतम राशि को 5,000 रुपये तय कर दिया गया है। इसके अलावा अगर आपकी सालाना आय 5 लाख रुपये से कम है, तब आपको देरी से ITR भरने पर 1,000 रुपये का जुर्माना देना होगा। बता दें कि 5 लाख रुपये से कम सालाना आय पर इनकम टैक्स देय नहीं होता।

सरकार ने बनाई इंडिया डेट रिजॉल्यूशन कंपनी, सरकारी बैंकों की होगी 49% हिस्सेदारी

बकाया टैक्स पर इंटरेस्ट पेनाल्टी

इनकम टैक्स एक्ट की धारा 234A के तहत, अगर किसी व्यक्ति पर 1 लाख रुपये से अधिक का टैक्स राशि बकाया है तो उस पर मंथली 1 प्रतिशत की दर से पेनाल्टी लगेगा। यह पेनाल्टी तब तक लगती रहेगा, जब तक वह देरी से ITR नहीं फाइल कर देता।

मौजूदा असेसमेंट ईयर के लिए ITR भरने की तारीख जरूर बढ़ाकर 31 दिसंबर 2021 कर दी गई है। लेकिन बकाया टैक्स राशि वाले व्यक्ति पर ITR भरने की पहली डेडलाइन 31 जुलाई के बाद से मंथली पेनाल्टी लगेगा। इसका मतलब है कि उस शख्स को 31 दिसंबर से पहले ITR भरने पर 5,000 रुपये का जुर्माना नहीं देना होगा, लेकिन उसे बकाया टैक्स राशि पर पेनाल्टी इंटरेस्ट का भुगतान जरूर करना पड़ेगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

MoneyControl News

MoneyControl News

First Published: Sep 16, 2021 7:29 PM

सब समाचार

+ और भी पढ़ें