Zomato ने रोड एक्सिडेंट में जान खोने वाले डिलीवरी एजेंट की फैमिली को 22 लाख रुपये और पत्नी को नौकरी देने का किया ऐलान

Zomato ने रोड एक्सिडेंट में जान खोने वाले डिलीवरी एजेंट की फैमिली को 22 लाख रुपये और पत्नी को नौकरी देने का किया ऐलान

Zomato ने कहा कि कंपनी डिलीवरी एजेंट सलिल त्रिपाठी की मौत से बेहत दुखी है और इस दुर्घटना के बाद से ही उनके परिवार के साथ है

अपडेटेड Jan 13, 2022 पर 4:33 PM | स्रोत : Moneycontrol.comडिलीवरी एजेंट सलिल त्रिपाठी की बाइक को कथित रूप से नशे की हालत में ड्राइविंग कर रहे दिल्ली पुलिस के एक कांस्टेबल ने अपनी कार से टक्कर मार दी, जिसमें उनकी मौत हो गई

जोमैटो (Zomato) ने रोड एक्सिडेंट में जान खोने वाले अपने डिलीवरी बॉय सलिल त्रिपाठी (Zomato Delivery Boy Salil Tripathi) के परिवार को वित्तीय सहायता देने का फैसला किया है। कंपनी ने गुरुवार 13 जनवरी को जारी एक बयान में यह जानकारी दी। Zomato ने बताया कि कंपनी सलिल त्रिपाठी की मौत से बेहत दुखी है और इस दुर्घटना के बाद से ही उनके परिवार के साथ है।

Zomato के फाउंडर दीपिंदर गोयल (Deepinder Goyal) ने एक ट्वीट में कहा, "हम पहले से ही सलिल त्रिपाठी के अंतिम संस्कार में आए खर्च सहित अन्य खर्चों को पूरा करने में परिवार की मदद कर रहे हैं और परिवार को हर संभव मजद देने की कोशिश कर रहे हैं।"

जोमैटो ने एक बयान मे कहा, "कंपनी सलिल त्रिपाठी के परिवार को फैमिली इंश्योरेंस 10 लाख रुपया मुहैया कराएगी। इसके अलावा जोमैटो के कर्मचारियों ने अलग से परिवार के लिए करीब 12 लाख रुपये जुटाए हैं।" जोमैटो ने बताया कि वह सलिल त्रिपाठी की पत्नी सुचेता को नौकरी भी मुहैया कराएगी

Paytm के शेयरों ने छुआ नया निचला स्तर, इश्यू प्राइस से अब तक 51.5% की आ चुकी है गिरावट, जानिए कारण

जोमैटो ने एक बयान में कहा, "हम सलिल के परिवार के प्रति सभी लोगों ने जो अत्याधिक चिंता और दयालुता दिखाई, उसके लिए हम उनके आभारी है। यह कहने की जरूरत नहीं है कि हम शोकाकुल परिवार के साथ बने रहेंगे, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि उन्हें इस कठिन समय में जरूरी आर्थिक और भावनात्मक समर्थन मिले।"

बता दें कि 38 वर्षीय सलिल त्रिपाठी उत्तर-पश्चिम दिल्ली के रोहिणी में एक ऑर्डर देने के लिए गए थे, जब उनकी बाइक को कथित रूप से नशे की हालत में ड्राइविंग कर रहे दिल्ली पुलिस के एक कांस्टेबल ने अपनी कार से टक्कर मार दी। घटनास्थल पर मौजूद लोग उन्हें लेकर एक अस्पताल में गए, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। कांस्टेबल को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सलिल त्रिपाठी पहले दिल्ली के एक बडे रेस्टोरेंट में मैनेजर थे। हालांकि कोरोनावायरस के समय रेस्टोरेंसट बंद होने से उनकी नौकरी चली गई, तब से वह अपने परिवार का पेट भरने के लिए फूड डिलीवरी का काम कर रहे थे। वह अपने परिवार के इकलौते कमाने वाले शख्स थे।

MoneyControl News

MoneyControl News

First Published: Jan 13, 2022 4:33 PM