UPI Transaction: केवल अक्टूबर में UPI के जरिए हुए 7.71 लाख करोड़ रुपए के 421 करोड़ ट्रांजैक्शन

UPI Transaction: केवल अक्टूबर में UPI के जरिए हुए 7.71 लाख करोड़ रुपए के 421 करोड़ ट्रांजैक्शन

7.71 लाख करोड़ रुपए का ट्रांजैक्शन हुआ और महीने में 421 करोड़ लेनदेन किए गए, दोनों अब तक के ऑल टाइम हाई पर

अपडेटेड Nov 01, 2021 पर 3:51 PM | स्रोत : Moneycontrol.com

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) ने अक्टूबर में एक और मील का पत्थर पार किया, जिसमें इस महीने UPI के जरिए 10000 करोड़ डॉलर का ट्रांजैक्शन हुआ। रुपए के हिसाब से 7.71 लाख करोड़ रुपए का ट्रांजैक्शन हुआ और महीने में 421 करोड़ लेनदेन किए गए, दोनों अब तक के ऑल टाइम हाई पर हैं।

फेस्टिव सीजन और ई-कॉमर्स सेल की शुरुआत के मद्देनजर खरीदारी की होड़ से अक्टूबर में बढ़ोतरी हुई। हायर वैक्सीनेशन रेट्स और गाइडलाइंस में और ढील के साथ, लोगों ने अक्टूबर में ज्यादा बार खरीदारी के लिए बाहर निकलना शुरू कर दिया।

मार्च से सितंबर 2021 तक, UPI ट्रांजैक्शन का औसत मासिक ग्रोथ रेट 5.8 प्रतिशत था। हालांकि, अक्टूबर में ट्रांजैक्शन वैल्यू में महीने-दर-महीने की बढ़ोतरी 18 प्रतिशत के करीब थी।

 PhonePe अब मोबाइल रिचार्ज के लिए यूजर्स से ले रहा फीस, जानें किस रिचार्ज पर देनी होगी कितनी फीस

इस दर पर, UPI ट्रांजैक्शन वैल्यू 1 ट्रिलियन डॉलर को पार करने की राह पर है, जो वित्त वर्ष 22 के लिए घरेलू पेमेंट सिस्टम के लिए एक बड़ा मील का पत्थर है।

2021 की शुरुआत से, मासिक ट्रांजैक्शन वैल्यू जनवरी में 4.31 लाख करोड़ रुपए से 79 प्रतिशत के करीब बढ़ गई है। जनवरी के 230 करोड़ से वॉल्यूम में 83 प्रतिशत से ज्यादा का उछाल देखा गया है।

जबकि 2016 में UPI के लॉन्च के बाद से मासिक ट्रांजैक्शन वैल्यू के लिए अक्टूबर 2020 में 3.86 लाख करोड़ रुपए का आंकड़ा पार करने में चार साल लग गए, इस महीने यह संख्या लगभग दोगुनी होकर 7 लाख करोड़ रुपए को पार कर गई।

29 सितंबर को ग्लोबल फिनटेक फेस्ट में बोलते हुए, NPCI के MD और CEO दिलीप असबे ने कहा था कि UPI 2021 में कुल NPCI ट्राजैक्शन वॉल्यूम का 60 प्रतिशत के करीब होगा।

उन्होंने कहा था कि मौजूदा रफ्तार से, UPI पांच साल के समय में एक दिन में 1 ट्रिलियन डॉलर के ट्रांजैक्शन को पार कर सकता है, लेकिन केवल तीन और सालों में मील का पत्थर हासिल करने की कोशिशों को दोगुना किया जा सकता है।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

MoneyControl News

MoneyControl News

First Published: Nov 01, 2021 3:51 PM