Moneycontrol » समाचार » बीमा

जानिए, क्या आपकी इंश्योरेंस पॉलिसी में है कोरोना वायरस का कवर!

हेल्थ पॉलिसी में कोरोना वायरस का कवर आपकी पॉलिसी के दायरे में आएगा
अपडेटेड Mar 05, 2020 पर 08:53  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पिछले कुछ सालों से दुनिया भर में कई घातक वायरसों का प्रकोप रहा है। इबोला, जिका, मर्स, बर्ड फ्लू, स्वाइन फ्लू और अब कोरोना वायरस जैसे तमाम वायरस ने दुनिया में तबाही मचाई है। कोरोना वायरस का जन्म चीन में हुआ। चीन से निकला यह वायरस आज दुनिया के 62 देशों को अपनी चपेट में ले चुका है। चीन में तकरीबन 2200 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। तकरीबन 70,000 मामले सामने आए हैं। जिसमें 6000 से अधिक गंभीर मामले हैं।


भारत में भी कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। भारत में अभी तक ज्यादा मामले सामने नहीं आए हैं। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के 6 मामले सामने आए हैं। ऐसे में कोरोना वायरस का बढ़ता संक्रमण सबको डराने लगा है। सर्दी बुखार और जुकाम जैसे आम लक्षणों से इस महामारी की शुरुआत होती है। लिहाजा यह जानना जरूरी हो गया है कि आपने जो इंश्योरेंस पॉलिसी ली है, उसमें कोरोना वायरस का कवर है या नहीं है।


हेल्थ कवर


हेल्थ इंश्योरेंस सेक्टर के जानकारों का मानना है कि अगर आपने पहले से कोई पॉलिसी ली है। तो फिर कोरोना वायरस का कवर उसमें मिलेगा। अभी यह एक नया वायरस होने के चलते अभी तक इसका कोई टीका नहीं बना है। कोरोना वायरस के चलते जिन लोगों की मौत हुई है, उनमें अधिकतर लोग 60 साल से अधिक उम्र के थे। इसके साथ ही कोरोना वायरस के संक्रमण में आने के पहले उनको गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं थी।
हेल्थ पॉलिसी में यह कोई मायने नहीं रखता कि आपको कौन सी बीमारी है। आपके अस्पताल में भर्ती होने पर यह पॉलिसी कवर करेगी। हेल्थ पॉलिसी आपके हर संक्रमण को कवर करती है। इस तथ्य के बावजूद यह कितना खतरनाक है। कोरोना भी एक ऐसा ही खतरनाक संक्रमण है। सभी हेल्थ पॉलिसी में संक्रमण के दिन से हेल्थ कवर मिलता है।


आपको बता दें कि कोरोना जैसी नई बीमारियां पहले से मौजूद बीमारी के दायरे में नहीं आती है। इसलिए यह आपके बेस हेल्थ कवर में शामिल होगी। अगर आप कोरोना का इलाज करा रहे हैं तो इसमें सभी प्रकार का इलाज, एम्बुलेंस कवर, अस्पताल में भर्ती होने सब कुछ आपकी हेल्थ पॉलिसी में मिलेगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।