Moneycontrol » समाचार » बीमा

उम्र के अलग-अलग पड़ाव पर सही इंश्योरेंस पॉलिसी का कैसे करें चयन

इंश्योरेंस पॉलिसी के लिए उम्र और जरूरत के हिसाब से बेहतर पॉलिसी का चयन करना चाहिए। शादी और बच्चों के बाद इंश्योरेंस की जरूरत बढ़ जाती है
अपडेटेड May 06, 2020 पर 09:11  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मौजूदा हालात में कोरोना वायरस से पूरी दुनिया ठहर गई है। लोग घरों पर कैद रहने के लिए मजबूर हो गए हैं। इससे एक महत्वपूर्ण बात निकल कर सामने आई है कि हमें ऐसी घटनाओं का सामना करने के लिए हमें अपने जीवन को कैसे सरल बना सकते हैं।


जिस तरह के दुनिया भर में हालात बने हुए हैं, उससे अब यह साफ हो गया है कि हमें अपने हेल्थ पर खास तौर से ध्यान की जरूरत है। अगर इस समय आप कोई हेल्थ पॉलिसी खरीदने के लिए सोच रहे हैं, तो ये समय आपके लिए बेहतर है। इस समय आप कोरोना वायरस को देखते हुए कोई भी बेहतर पॉलिसी का चयन कर सकते हैं।


जानकारों का कहना है कि अगर आप पहली बार इंश्योरेंस पॉलिसी खरीद रहे हैं तो आपके दिमाग में कई तरह के सवाल खड़े हो रहे होंगे। आपको अपनी उम्र के हिसाब से देखना होगा कि आपके लिए कौन सी इंश्योरेंस पॉलिसी बेहतर रहेगी। इसके लिए आपको कुछ टिप्स दे रहे हैं ताकि आप अपने हिसाब सही पॉलिसी का चयन कर सकें।


युवास्था में जब आप अविवाहित हैं


यह उम्र का वो पड़ाव है जब आपके पास वित्तीय रूप से अधिक बोझ नहीं होगा। इस उम्र में लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी में निवेश करना आपके लिए सही रहेगा। इसी उम्र में आपको हेल्थ चेकअप की जरूरत बहुत कम पड़ेगी। अगर आप कभी हॉस्पिल में भर्ती होते हैं या कभी कोई अचानक एक्सीडेंट हो जाता है, तो आपके लिए हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी काम देगी। अपने हिसाब से कोई बेहतर पॉलिसी चयन करें जिससे भविष्य में कवरेज बढ़ता हो। ताकि आपको बाद में सहूलियत रहे।


जब आप प्रोफेशनल हैं आपकी अच्छी कमाई है 


उम्र का यह एक ऐसा पड़ाव होता है जब आपके पास नौकरी, पैसा सब रहता है। इस उम्र में आप करियर में ग्रोथ कर रहे होते हैं। आपकी कमाई भी अच्छी रहती है। ऐसी अवस्था में जानकारों का मानना है कि लंबी अवधि के लिए निवेश करना बेहतर रहता है। क्योंकि इस उम्र में आपकी इनकी इनकम अच्छी रहती है। आप यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस में आप निवेश कर सकते हैं। यहां आपका इंश्योरेंस भी होता है और निवेश भी होता है। यानी आपको दोहरा लाभ मिलता है।  


जब आप विवाहित हैं और बच्चे भी साथ में हैं 


यह एक ऐसा समय है जब आपके पास नई जिम्मेदारियां सामने आ जाती हैं। इस समय आपको अपने हेल्थ कवरेज और टर्म प्लान को बदल लेना चाहिए। आपके पास ऐसी हेल्थ पॉलिसी होनी चाहिए, जिसमें गंभीर बीमारियों का कवरेज मिल सके। इस समय आपको रिटायरमेंट के लिए भी कोई छोटा सा प्लान लेना चाहिए, हालांकि अभी यह काफी दूर है, लेकिन आप निवेश करके छोटी शुरुआत कर सकते हैं।


इसके अलावा आप अपनी हेल्थ पॉलिसी में बच्चों को भी जोड़ सकते हैं। बच्चों की एजूकेशन के लिए इंश्योरेंस पॉलिसी शुरू करनी चाहिए।


जीवन के बीच का पड़ाव, जब आपके पास होती हैं ढेर सारी जिम्मेदारी


यह एक ऐसी उम्र है जब आमतौर पर आप 45 साल से ऊपर के होंगे। आपके पास घर, परिवार, बचचों की जिम्मेदारी रहती है।  ऐसे में आपको हेल्थ पर खास तौर से ध्यान देने की जरूरत रहती है। क्योंकि आपके पीछे आपका परिवार कई लोग हैं। इसलिए आपको ऐसी हेल्थ पॉलिसी लेनी चाहिए जिसमें पूरा हेल्थ कवर हो सके। आमतौर पर इस उम्र में कई तरह के टेस्ट कराने की जरूरत पड़ती है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।