Moneycontrol » समाचार » निवेश

Coronavirus: जानिए बीमा कंपनियों का कौन सा प्लान बेस्ट है

बीमा कंपनियां कोरोनावायरस के कवर के लिए कुछ खास प्लान लेकर आई हैं जानिए आपके लिए क्या ठीक है
अपडेटेड Apr 09, 2020 पर 17:10  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पहर गुजरते दिन के साथ, Covid-19 (कोरोना वायरस) पॉज़िटिव लोगों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के आंकड़ों के मुताबिक, दुनिया भर के अलग-अलग हिस्सों में लगभग 14 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित हैं। अभी सबसे ज्यादा अमेरिका में लोग इससे संक्रमित हैं।  अमेरिका के बाद इटली और स्पेन का स्थान है। भारत में कुल 5700 लोगों में इस वायरस
के संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है, जिनमें से 75 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।


लोगों में बढ़ती घबराहट और कोरोना वायरस के तेजी से प्रसार को देखते हुए, भारत में सभी हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियों ने रेगुलर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत कोरोना वायरस के इलाज को कवर देना शुरू कर दिया है। हालांकि, बीमा रेगुलेटर इरडा के निर्देशों के अनुसार, इंश्योरेंस कंपनियों ने खास तौर पर कोरोना वायरस पर फोकस खास हेल्थ
इंश्योरेंस प्रोडक्ट की भी शुरुआत की है। ये प्रोडक्ट इस घातक वायरस के संक्रमण के खिलाफ पूरा कवरेज देते हैं।


ऐसे बीमा प्लान संक्रमण के इलाज के दौरान आमदनी के नुकसान की भरपाई भी करेंगे क्योंकि कोरोना वायरस पॉज़िटिव होने पर पॉलिसीधारक को एकमुश्त पूरी बीमा
राशि (फुल सम एश्योर्ड) का भुगतान किया जाता है। लेकिन, उपभोक्ताओं को इन प्लान को रेगुलर इन्डेमनिटी आधारित हेल्थ प्लान के साथ राइडर के रूप में खरीदना चाहिए जो सभी बीमारियों के खिलाफ फुल सम एश्योर्ड तक कवरेज देते हैं।


क्या हैं शर्तें?


कोरोना वायरस के लिए इस तरह के फिक्स्ड-बेनेफिट प्लान सिर्फ 1 साल की सीमित अवधि के लिए उपलब्ध हैं। इन प्लान का रिन्युअल या किसी अन्य बीमारी के इलाज के लिए इनका उपयोग नहीं किया जा सकता। इसके साथ ही ये पॉलिसियां सिर्फ भारत के निवासियों के लिए ही हैं। हालांकि उम्र, सम एश्योर्ड, व्यक्तिगत या समूह जैसी दूसरी शर्तें हर पॉलिसी के लिए अलग-अलग है।


ICICI लोम्बार्ड-कोविड -19 प्रोटेक्शन कवर


कोरोना वायरस के लिए ICICI लोम्बार्ड के खास स्वास्थ्य बीमा प्लान को कोविड -19 प्रोटेक्शन कवर नाम दिया गया है। यह एक फिक्सस्ड बेनेफिट प्लान है जो पॉलिसीधारक के कोरोना पॉज़िटिव होने पर उसके अस्पताल में भर्ती होने के खर्च से अलग एकमुस्त 100 प्रतिशत सम एश्योर्ड का भुगतान करती है। यह प्लान 14 दिनों की प्रारंभिक वेटिंग पीरियड के साथ आता है। यानी बीमा लेने के 14 दिनों के बाद से कवर शुरू होता है। इसे 18 से 75 वर्ष की आयु वर्ग के लोग खरीद सकते हैं।


हालांकि, ICICI लोम्बार्ड का कोविड -19 प्रोटेक्शन कवर 31 दिसंबर, 2019 के बाद विदेश यात्रा करने वाले लोगों के लिए नहीं हैं। इसके अलावा, यदि पॉलिसीधारक को रिस्क इंसेप्शन डेट के पहले या 14 दिन के वेटिंग पीरियड में क्वारंटीन या डायग्नोज किया गया है तो बीमा कंपनी किसी भी क्लेम के भुगतान के लिए उत्तरदायी नहीं होगी। यहां तक कि इस प्लान में कुछ एड-ऑन्स भी हैं। जैसे टेली कंसल्टेशन (कोई भी परामर्श को लेने के लिए 4 मुफ्त कॉल) और एम्बुलेंस की सुविधा भी शामिल है। ये बीमाधारक के कवरेज को बढ़ा सकते हैं। इस हेल्थ कवर का प्रीमियम 149 रुपए है जो 25,000 रुपए का सम एश्योर्ड उपलब्ध करता है।


फ्यूचर जनराली-ग्रुप इंश्योरेंस कवर/मेडिक्लेम पॉलिसी


फ्यूचर जनराली का हेल्थ इंश्योरेंस प्लान भी फिक्स्ड-बेनेफिट कवर देता है। पॉलिसीधारक के संक्रमित होने पर यह प्लान एकमुश्त 100 फीसदी सम एश्योर्ड देता है। हालांकि, पॉलिसी खरीदते समय उपभोक्ता को अपनी यात्रा रिकॉर्ड उपलब्ध कराना
होगा। साथ ही उसका कोरोना वायरस से संबंधित कोई पिछला मेडिकल रिकॉर्ड भी नहीं होना चाहिए। यदि पॉलिसी धारक को कोरोना वायरस संक्रमण का डॉयग्नोसिस नहीं किया गया है और उसे Covid-19 संक्रमण के संदेह में 14-दिन के क्वारंटीन के लिए कहा गया है तो सम एश्योर्ड के केवल 50 फीसदी दिया जाएगा। 50 प्रतिशत सम एश्योर्ड के अलावा, बीमा राशि का 10 फीसदी क्वारंटीन पॉलिसी धारक को आकस्मिक खर्चों के लिए दिया
जाएगा।


स्टार हेल्थ इंश्योरेंस - स्टार नॉवेल रोनावायरस


स्टार हेल्थ इंश्योरेंस का स्टार नोवेल कोरोना वायरस उन लोगों को स्वास्थ्य बीमा कवर प्रदान करता हैं जिनका Covid -19 टेस्ट पॉज़िटिव है और उन्हें तत्काल अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत है। हालांकि, यह प्लान 16 दिनों के इनिशियल वेटिंग पीरियड के साथ आता है। 18 से 65 वर्ष की आयु का कोई भी व्यक्ति स्टार हेल्थ इंश्योरेंस के इस प्लान को खरीद सकता है। जबकि 3 महीने से 25 साल के डिपेंडेंट बच्चों को माता-पिता में से किसी एक के साथ इस योजना के तहत कवर किया जा सकता है।


इस पॉलिसी की सबसे खास बात यह है कि किसी भी देश की विदेश यात्रा के इतिहास वाले व्यक्ति को भी कवर करता है। 21,000 रुपए के सम एश्योर्ड के साथ स्टार नोवेल कोरोना वायरस प्लान 459 रुपए+GST के प्रीमियम पर ऑनलाइन उपलब्ध है। वहीं 42,000 रुपए के सम एश्योर्ड के लिए प्लान का प्रीमियम 918 रुपए+GST है। फिक्स्ड बेनेफिट प्लान होने की वजह से इस पॉलिसी को साल में सिर्फ एक बार खरीदा जा सकता है।


तो क्या करें आप?

फिक्स्ड बेनेफिट प्लान किसी खास बीमारी के लिए खास कवरेज प्रदान करते हैं। फिर भी आपको हमेशा फिक्स्ड बेनेफिट प्लान के तहत खुद को कवर करने के अलावा एक क्षतिपूर्ति आधारित स्वास्थ्य बीमा योजना खरीदने की भी सलाह दी जाती है। इस तरह के प्लान को हर साल रिन्यू किया जा सकता है और आपको उस विशिष्ट बीमारी के इतर समग्र सुरक्षा कवर मिल जाती है। हर तरह की बीमारी और मर्ज़ से व्यापक और समग्र सुरक्षा के लिए, आपको हमेशा अधिकतम सम एश्योर्ड के साथ एक रेगुलर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में निवेश करना चाहिए।


अमित छाबर, हेड-हेल्थ इंश्योरेंस-पॉलिसीबाजार डॉटकॉम


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।