Moneycontrol » समाचार » निवेश

डेट फंड या Banking & PSU फंड, किसमें निवेश करना है बेहतर

प्रकाशित Fri, 12, 2019 पर 13:09  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

डेट फंड में निवेशकों को FD के मुकाबले ज्यादा रिटर्न तो मिलता है लेकिन जिस तरह से डेट फंड की पूरी केटेगरी से निवेशकों का भरोसा जा रहा है। उसे ध्यान में रखते हुए अब डेट फंड में निवेश करने से क्या डरना चाहिए? या फिर बैंकिंग एंड पीएसयू फंड जिसे पिछले साल SEBI CLASSIFICATION के चलते एक अलग केटेगरी बनाया गया है। इस केटेगरी से बहुत सारे फंड काफी पहले से ही निवेश के लिए मौजूद थे पर पहले इन्हे शॉर्ट टर्म और इनकम फंड के नाम से जाना जाता था। इसपर और चर्चा में हमारे साथ मौजूद हैं Morningstar के इंवेस्टमेंट एडवाइजरी के डायरेक्टर धवल कपाड़िया।


अब 80% कॉर्पस बैंक और PSU फंड में निवेश करेंगे। क्रेडिट के लिहाज से ये फंड सुरक्षित होते हैं। डेबेंचर्स और बॉन्ड्स इस फंड में शामिल होगे। साथ ही बैंक, पब्लिक सेक्टर एंटरप्राइजेज फंड भी शामिल किए जाएगे। ज्यादातर PSU फंड्स AAA रेटेड होते हैं जबकि डेबेंचर्स और बॉन्ड्स AAA और AA रेटेड होते है।


पिछले कुछ सालों से फंड ने 9% रिटर्न दिया है। गिल्ट फंड, लॉन्ग ड्यूरेशन से इस फंड को सहारा मिला है। ये फंड बैंक FDs से ज्यादा रिटर्न देते हैं। NHAI, FCI, REC, NTPC के पेपर्स में निवेश करें। PFC, SIDBI, NABARD के पेपर्स में निवेश करें। इन फंड में लिक्विडिटी ज्यादा होती है। रेट कट के समय फंड ने मुनाफा दिया है।