Moneycontrol » समाचार » निवेश

दिवाली पर हो शुभ खरीदारी, कैसे करें खरे सोने की पहचान!

प्रकाशित Sat, 03, 2018 पर 18:23  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

दिवाली के मौके पर सोना निवेश के लिए सबसे सुरक्षित माना जाता है। मां लक्ष्मी की कृपा के लिए अधिकतर लोग धनतेरस पर सोने में शुभ निवेश करना पसंद करते है, लेकिन ऐसे मौके पर आप कैसे खरे सोने की पहचान करें और सोने में निवेश से अपने पोर्टफोलियो को कैसे चमकदार बनाएं रखे इस पर बात करने के लिए हमारे साथ मौजूद है फाइनेंशियल प्लानर हर्षवर्धन रुंगटा।


हर्षवर्धन रुंगटा का मनाना है कि उतार-चढ़ाव भरे बाजार में सोने में निवेश करना बेहद सुरक्षित है। सोना ना केवल आपके पोर्टफोलियो को चमकाने में मदद करता है बल्कि महंगाई को भी मात देता है। हर्षवर्धन रुंगटा के मुताबिक सोने में निवेश करना इक्विटी से ज्यादा सुरक्षित है। एसेट एलोकेशन का अहम हिस्सा गोल्ड होता है। उनका मानना है कि त्योहार में सोने की तरफ लोगों का ज्यादा रुझान होता है।


हर्षवर्धन रुंगटा के मुताबिक सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड सबसे सुरक्षित निवेश का जरिया है।  सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड पर सालाना ब्याज भी मिलता है। निवेश के लिए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड सबसे सही है। भारतीय संस्कृति के मुताबिक धनतेरस पर सोना लेना जरूरी माना जाता है।


गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम पर नजर रख सकते है। गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम के जरिए सोने में निवेश से फायदा मिलेगा। फिजिकल गोल्ड के बदले बॉन्ड और ब्याज मिलेगा। इस स्कीम के जरिए मैच्योरिटी पर गोल्ड या कैश में बदलने का ऑप्शन भी मिलता है।


सोने की शुद्धता पहचानने के लिए बाजार में पहचान वाले सुनार से ही सोना खरीदें। सोने की खरीद पर पक्का बिल जरूर लें। हॉलमार्क की जांच कर ही सोना खरीदें। ज्वेलरी पर हॉलमार्क जरूर देखें।