Moneycontrol » समाचार » निवेश

NRI के लिए निवेश की रणनीति, NRI कैसे करें भारत में निवेश

बता दें कि NRI भारत में निवेश कर सकते हैं। NRI को दो तरह के खाते खोलने की जरूरत होती है।
अपडेटेड Nov 06, 2019 पर 09:09  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

NRI भारतीय बाजार में निवेश कब करें। योर मनी पर जानिये NRI के लिए भारत में निवेश की रणनीति कैसे अलग है। बता दें कि NRI भारत में निवेश कर सकते हैं। NRI को दो तरह के खाते खोलने की जरूरत होती है। इस खास शो में सीएनबीसी-आवाज़ के साथ मिलकर AnandRathi Pvt Wealth Management के फिरोज़ अझीज आपको NRI के खातों और निवेश से संबंधित जानकारी और सुझाव देंगे।


NRE खाता (नॉन रेजिडेंट एक्सटर्नल)


एनआरआई खाते में फॉरेन करेंसी जमा कर रूपए में बदली की जा सकती है। इस खाते से भारत में पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं। इसमें नॉन रेजिडेंट एक्सटर्नल खाता टैक्स फ्री खाता होता है। इसमें सेविंग, रिकरिंग, फिक्सड खाते का विकल्प होता है। इस खाते से पैसे विदेश ले जा सकते हैं। इसमें विदेश से होने वाली कमाई जमा की जा सकती है।


NRO खाता (नॉन रेजिडेंट ऑर्डिनरी)


इस खाते में भारत में कमाई हुई रकम खाते में जमा की जा सकती है। इस खाते में सिर्फ भारत की करेंसी में पैसा रखा जा सकता है। ऐसे मामले में कमाई का स्रोत भी भारत होना चाहिए। खाते में आर्थिक लेनदेन पर टैक्स लगता है। इसमें सेविंग, रिकरिंग, फिक्सड खाते का विकल्प होता है। ऐसे खाताधारक 10 लाख से ज्यादा तक की रकम RBI की इजाजत पर विदेश ले जा सकते हैं।


NRI की कमाई होगी कम


NRI के लिए छोटी बचत योजनाओं पर कमाई कम होती है। जब NRI बनते हैं तो कम ब्याज मिलता है। इसके बाद PPF और NSC खाता बंद हो जाता है। खाता बंद हो जाने पर PPF और NSC पर 4 प्रतिशत ब्याज मिलता है। इस समय PPF और NSC पर मौजूदा ब्याज दर 7.8 प्रतिशत है। इसलिए NRI बनते ही खाता बंद करा देना चाहिए।


निवेश और टैक्स


NRI के लिए निवेश पर कमाया हुआ डिविडेंड टैक्स फ्री होता है। इक्विटी पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन पर टैक्स लगता है। इक्विटी पर शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन टैक्स पर 15 प्रतिशत टैक्स लगता है। वहीं NRO खाते पर कमाए गये ब्याज पर टैक्स लगता है। हालांकि 2.5 लाख तक की कमाई पर टैक्स नहीं लगता है। वे भी TDS को रिफंड के लिए क्लेम कर सकते हैं। दूसरी तरफ FPI रूट से आने से TDS नहीं चुकाना होगा। फिर भी रिफंड के लिए रिटर्न फाइल करना जरूरी होता है।


वतन आने पर क्या करें NRI


एनआरआई को भारत लौट आने पर तमाम निवेशों में बदलाव करना चाहिए। उनको भारत में बैंक खाता खोलना चाहिए। उन पर भी भारत में बिताए दिनों के आधार पर टैक्स लगाया जाएगा।  


सवालः मेरी उम्र 30 साल है। NRI के लिए निवेश की प्रक्रिया क्या होती है? मेरा 20 साल में 30-35 लाख जमा करने का लक्ष्य है। क्या 1-2 किश्त में एकमुश्त निवेश ठीक होगा? मुझे लार्ज और मिडकैप फंड में निवेश पर सलाह चाहिए।


फिरोज़ अझीज की सलाहः आपको डायवर्सिफाइड म्युचुअल फंड में निवेश करना चाहिए। इसमें लंबी अवधि में 14-15 प्रतिशत तक रिटर्न की उम्मीद है। Invesco India में 5 लाख रुपये तक lumpsum के तहत निवेश करें। आपके 30-35 करोड़ रुपये के लक्ष्य के लिए 1 लाख प्रति माह इन फंड्स में निवेश करना होगा। आप Kotak Standard Multicap Fund, Mirae Asset Largecap Fund, SBI Focused Equity Fund और Kotak Emerging Equities Fund में निवेश कर सकते हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।