Moneycontrol » समाचार » निवेश

जानिए क्या है India Post Payments Bank और कैसे खुलवाएं डिजिटल अकाउंट

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक एक ऐसा बैंक है जिसके जरिए उन ग्रामीण क्षेत्रों को बैंकिंग से जोड़ने की कोशिश की गई है, जहां बैंक नहीं हैं।
अपडेटेड Dec 31, 2019 पर 15:41  |  स्रोत : Moneycontrol.com

बैंक अकाउंट हर भारतीय के लिए एक जरूरी हिस्सा हो गया है। अगर आपको किसी भी तरह का सरकारी लाभ हासिल करना है तो आपके पास बैंक अकाउंट होना जरूरी है।  ऐसे में बैंक अकाउंट में मिनिमम बैलेंस रखना भी जरूरी है। अगर आप चाहते हों कि आपके अकाउंट में मिनिमम बैलेंस का कोई झंझट न रहे तो इसके लिए केंद्र सरकार ने पोस्ट ऑफिस में अकाउंट खुलावाने की सुविधा मुहैया कराई है। इसे ही India Post Payments Bank (IPPB) कहते हैं। यह पूरी तरह से डिजिटल अकाउंट है। यानी यह आपके लिए चलता-फिरता बैंक है। इसमें अगर आपको कैश की जरूरत पड़ेगी तो डाकिया आपको घर बैठे दे जाएगा।


IPPB एक ऐसा बैंक है जिसके जरिए उन ग्रामीण क्षेत्रों को बैंकिंग से जोड़ने की कोशिश की गई है, जहां बैंक नहीं हैं। IPPB में शहरी पोस्ट ऑफिसों में भी खाता खुलवाया जा सकता है। यह पोस्ट ऑफिस के सेविंग अकाउंट से अलग है।


IPPB में मोबाइल बैंकिंग, एसएमएस बैंकिंग, मिस्ड कॉल बैंकिंग, फोन बैंकिंग और QR कोड से बैंकिंग की सुविधाएं मिलती है।


IPPB की खासियत


इसमें 3 तरह क सेविंग अकाउंट है। जिसमें रेग्युलर, बेसिक और डिजिटल अकाउंट है। इसमें आप घर बैठे भी बैंक अकाउंट ओपन करा सकते हैं। इन तीनों ही अकाउंट्स पर ग्राहकों को 4 फीसदी सालाना ब्याज मिलेगा, लेकिन ब्याज की कम्पाउंडिंग तिमाही आधार पर होगी।  


IPPB में आप जीरो बैलेंस के साथ रेगुलर सेविंग अकाउंट खुलवा सकते हैं। साथ ही आपको महीने में न्यूनतम राशि मेंटेन करने की भी जरूरत नहीं होती है। इसके लिए आप कितना भी कैश निकाल सकते हैं। इसमें दस वर्ष से अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति अकाउंट ओपन करा सकता है। साथ ही इसमें यूनिक QR कोड के जरिए आपको किसी भी तरह के पिन या पासवर्ड की जरूरत नहीं पड़ेगी। QR कोड के बायोमेट्रिक उपयोग कर ट्रांजैक्शन किया जा सकता है। इसमें आपके हर ट्रांजैक्शन पर आपके रजिस्टर्ड मोबाइल में एक OTP भेजा जाता है।


इसमें डिजिटल अकाउंट की सुविधा भी मुहैया कराई जाती है। इसमें कोई भी 18 साल से अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति अकाउंट ओपन करा सकता है। इसके लिए आधार कार्ड और पैन कार्ड की जरूरत है। इसके लिए आपका KYC होना जरूरी है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।