मदर्स डे पर बचत की टीचर को दें निवेश का सहारा -
Moneycontrol » समाचार » निवेश

मदर्स डे पर बचत की टीचर को दें निवेश का सहारा

प्रकाशित Fri, 11, 2018 पर 19:00  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

मां, इस शब्द में पूरा ब्रह्माण बसता है। आपको इस दुनिया में लाने से लेकर आपको चलना साखाना, बोलना सिखाना, हर दुनिया के हर पहलू से रूबरू कराना, ये और इस्से कहीं ज्यादा करती है मां। मां की ममता का तो खैर आप मोल नही लगा सकते, लेकिन मगर्स डे के खास मौके पर उनसे अपना प्यार जता सकते हैं। इस खास पेशकश में मेरे साथ हैं फाइनेंशियल एक्सपर्ट बलवंत जैन।
 
बलवंत जैन का कहना है कि मदर्स डे को स्पेशल बनाने के लिए मां को तोहफे में प्रिवेंटिव हेल्थ चेक-अप दें। मां के लिए हेल्थ कवर जरूर लें। साथ ही वह इमरजेंसी फंड जरुर बनाएं। इस मदर्स डे में बचत की टीचर को निवेश की सीख दें।


मदर्स डे पर मां का हेल्थ चेक-अप कराएं। बीमारियों की जल्दी पहचान से मुश्किलें आसान होंगी। ओवरियन, सर्वाइकल कैंसर जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ा है। सेक्शन 80डी में मेडिकल पर खर्च का क्लेम सालाना 25,000 रुपये है और सीनियर सिटिजन होने पर सीमा 50,000 रुपये है।


बलवंत जैन के मुताबिक लगातार बढ़ते मेडिकल खर्च के लिए हेल्थ कवर लें। मां के लिए कम से कम 5 लाख रुपये का कवर मां के लिए जरुर लें। एंप्लॉयर से मिलने वाले फैमिली कवर में शामिल करें। हेल्थ इंश्योरेंस के प्रीमियम पर टैक्स छूट मिलेगी। मां के लिए इमरजेंसी फंड लेते हुए बचत खाते में ज्यादा रिटर्न नहीं मिलेगा। एफडी में लॉक-इन पीरियड है। मां के लिए लिक्विड म्यूचुअल फंड में निवेश करें। लिक्विड म्यूचुअल फंड में एफडी से बेहतर रिटर्न मिलता है। जरूरत के वक्त तुरंत नकदी की सुविधा है। कुछ फंड हाउस में 90 फीसदी रिडेंप्शन की सुविधा है। Mycams और Ktrack ऐप से फंड ऑनलाइन मैनेज कर सकते है।


मां को बचत खाते के अलावा बाकी निवेश विकल्प समझाएं। सोना, एफडी और इंश्योरेंस के अलावा कई निवेश विकल्प समझाएं। सीनियर सिटिजन को मिस-सेलिंग का ज्यादा खतरा है। पर्सनल फाइनेंस के मैगजीन और प्रोग्राम दिखाएं। मां को उनके निवेश की समीक्षा करने को कहें। फाइनेंशियल एडवाइजर से समीक्षा कराएं। रिस्क को ध्यान में रखते हुए निवेश विकल्प चुनें।


घर का सामान मंगाने से लेकर कैब की बुकिंग ऑनलाइन करें ताकि मां को डिजिटल स्मार्ट बना सकें। बिजली, टेलीफोन और बाकी बिल ऑनलाइन भरना बताएं। बैंकिंग ट्रांजैक्शन ऑलनाइन करने को प्रोत्साहित करें। ऑनलाइन ट्रांजैक्शन की प्रक्रिया समझाएं। माता-पिता अकेले तो डिजिटल ज्ञान फायदेमंद होता है।  


उम्र के मुताबिक मां के लिए म्यूचुअल फंड चुनें। नियमित आय के लिए म्यूचुअल फंड गिफ्ट करें। मंथली इनकम प्लान (MIP) में निवेश की सलाह होगी और नियमित आय की जरूरत ना होने पर एसआईपी करें। लार्जकैप फंड में मां को जॉइंट होल्डर बनाएं।