Moneycontrol » समाचार » निवेश

गोल्ड पर सेंसेक्स पिछले 21 वर्षों में भारी पड़ा, लेकिन इस बार अक्षय तृतीया पर गोल्ड खरीदना बेहतर

आर्थिक संकट के दौर में गोल्ड में निवेश करना बेहतर रहता है। इक्विटीज से अच्छा रिटर्न मिलता है लेकिन इसमें जोखिम भी अधिक है
अपडेटेड May 13, 2021 पर 22:31  |  स्रोत : Moneycontrol.com

बीएसई (BSE) सेंसेक्स ने पिछले 21 वर्षों में गोल्ड प्राइसेज से 50 प्रतिशत से अधिक रिटर्न दिया है। हालांकि, इसका यह मतलब नहीं है कि इनवेस्टर्स को इस बार अक्षय तृतीया पर गोल्ड खरीदने पर विचार नहीं करना चाहिए। एक्सपर्ट्स का कहना है कि इन्फ्लेशन के खिलाफ गोल्ड आपके लिए एक कवच का काम कर सकता है।


BSE सेंसेक्स 1999 में 4,141 प्वाइंट से 2021 में 48,690 प्वाइंट (बुधवार तक) तक पहुंचा है। इसी तरह गोल्ड की कीमतें 1999 में 4,234 रुपये प्रति 10 ग्राम से अब 47,760 रुपये प्रति 10 ग्राम (MCX गोल्ड फ्यूचर्स का शुक्रवार को बंद स्तर) तक बढ़ी हैं।


हालांकि, कुल रिटर्न के लिहाज से सेंसेक्स ने गोल्ड को पीछे छोड़ा है। लेकिन इसके बावजूद गोल्ड में इनवेस्टर्स की दिलचस्पी बरकरार है।


गोल्ड या सेंसेक्स में से किसमें निवेश करें?


यह ऐतिहासिक तौर पर साबित हुआ है कि इक्विटी मार्केट से लॉन्ग-टर्म में अधिक रिटर्न मिलता है। लेकिन इक्विटी निवेश के साथ जोखिम भी अधिक है। पिछले कुछ वर्षों में गोल्ड में इनवेस्टमेंट की रफ्तार कम हुई है क्योंकि स्टॉक्स और सिक्योरिटीज जैसे इनवेस्टमेंट के अन्य जरिए बढ़े हैं। एक्सिस सिक्योरिटीज के वीपी, राजेश पलविया ने कहा कि अधिक रिटर्न के साथ ही इक्विटीज से इनवेस्टर्स को एक डायवर्सिफाइड पोर्टफोलियो बनाने में भी मदद मिलती है। इमरजेंसी होने पर इक्विटीज से इनवेस्टर्स को कैश भी जल्द मिल सकता है।


महंगाई के लिए कवच जैसा है गोल्ड में इनवेस्टमेंट


आर्थिक संकट के दौर में गोल्ड निवेश का एक अच्छा जरिया है। आनंद राठी शेयर्स एंड स्टॉक ब्रोकर्स के रिसर्च हेड, नरेन्द्र सोलंकी ने बताया, "गोल्ड को इन्फ्लेशन के खिलाफ एक सुरक्षा के तौर पर देखा जाना चाहिए। इसे ध्यान में रखते हुए इनवेस्टर्स को इकनॉमी में तेजी आने पर इनवेस्टर्स को गोल्ड खरीदने से बचना चाहिए और इक्विटीज में इनवेस्टमेंट करना चाहिए क्योंकि तब स्टॉक्स के अच्छा प्रदर्शन करने की संभावना होती है।"


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।