Moneycontrol » समाचार » निवेश

योर मनीः कैसे करें मिडकैप, स्मॉलकैप फंड में निवेश

योर मनी पर आज हम जानेंगे की मिड और स्मॉल कैप फंड में कब और कितना निवेश करना चाहिए।
अपडेटेड Aug 06, 2016 पर 14:00  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

निवेश वहीं सही होता है, जिसमें आपको ज्यादा से ज्यादा मुनाफा हो, लेकिन अगर फंड के चुनाव में और निवेश अवधी गलत हो जाए, तो निवेश भारी भी पड़ सकता है। योर मनी पर आज हम जानेंगे की मिड और स्मॉल कैप फंड में कब और कितना निवेश करना चाहिए, अगर आप नए निवेशक हैं, तो क्या इन फंड में निवेश करना सही है। और साथ ही लेंगे आपके तमाम सवाल जिनके जवाब देंगे बजाज कैपिटल के अनिल चोपड़ा


सवालः मिडकैप, स्मॉलकैप फंड में कैसे करें निवेश?


अनिल चोपड़ाः डीएसपी ब्लैकरॉक माइक्रोकैप फंड में निवेश की सीमा लगाई गई है, जो 10 अगस्त से लागू होगी। इस फंड में निवेशक 1 लाख रुपये से ज्यादा निवेश नहीं कर पाएंगे। डीएसपी बीआर माइक्रोकैप फंड छोटी कंपनियों में निवेश करता है और स्मॉलकैप कंपनियों के वैल्युएशन बढ़ने से ये फैसला लिया गया है। वैल्युएशन बढ़ने से निवेश लायक कंपनियां कम बचीं है। 3 साल में इस फंड का एयूएम 355 करोड़ रुपये से बढ़कर 3300 करोड़ रुपये हुआ है।


मिडकैप, स्मॉलकैप फंड में उतार-चढ़ाव ज्यादा होता है। निवेशक उतार-चढ़ाव के हिसाब से पोर्टफोलियो बदले और बाजार में तेजी आने पर मुनाफावसूली करें। निवेशक बाजार में गिरावट आने पर निवेश कर सकते हैं।


सवालः 4 साल में 10 लाख रुपये जमा करना है। लक्ष्य हासिल करने के लिए कहां और कितना निवेश करें और किस फंड में कितने की एसआईपी करनी होगी? 


अनिल चोपड़ाः 4 साल का समय कम, एसआईपी में ज्यादा निवेश करना होगा। 12 फीसदी रिटर्न मिलता है तो प्रति माह 15-16 हजार निवेश करना होगा। लार्जकैप फंड में ज्यादा निवेश करें। एसबीआई ब्लूचिप फंड, एक्सिस इक्विटी फंड, कोटक 50, टाटा प्योर इक्विटी फंड, आईसीआईसीआई टॉप 100 और बीएनपी पारिबा इक्विटी फंड देखे जा सकते हैं।


वीडियो देखें