Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

रेलवे चला रहा 230 विशेष ट्रेन, अब तत्काल टिकट बुक कर सकेंगे यात्री

इन ट्रेनों में यात्रियों को सुविधा के ध्यान में रखते हुए सोमवार से तत्काल टिकट बुक करने की सुविधा रेलवे द्वारा उपलब्ध कराई गई है।
अपडेटेड Jun 30, 2020 पर 13:21  |  स्रोत : Moneycontrol.com

देश में कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए लॉकडाउन लागू किया गया है इसके बावजूद कोरोना अभी तक नियंत्रण में नहीं आया है। इसके अलावा रेलवे जैसी सबसे व्यस्त और जरूरी नियमित सुविधा को भी 12 अगस्त तक बंद कर दिया गया है। लेकिन इसके बावजूद सुरक्षा एहतियात बरतते हुए इस अवधि में 230 विशेष ट्रेनें चलाई जायेंगी। इन ट्रेनों में यात्रियों को सुविधा के ध्यान में रखते हुए सोमवार से तत्काल टिकट बुक करने की सुविधा रेलवे द्वारा उपलब्ध कराई गई है।


देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ने के कारण 12 अगस्त तक मेल, एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेन की नियमित आवाजाही को बंद रखा गया है। इसलिए इस दौरान केवल विशेष ट्रेनें चलाई जायेंगी। रेलवे की तरफ से सूचना दी गई है कि इन विशेष ट्रेनों में अब यात्री तत्काल टिकट बुक करा सकेंगे।


महाराष्ट्र टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक आज से छूटनेवाली सभी गाड़ियों में तत्काल टिकट की सुविधा उपलब्ध कराई गई है ऐसी जानकारी रेलवे अधिकारियों ने दी। तत्काल टिकट गाड़ी छूटने के एक दिन पहले बुक किये जा सकेंगे। एसी टिकट बुक 10 बजे के बाद और स्लीपर टिकट 11 बजे के बाद बुक किये जा सकेंगे।


ये तत्काल टिकट IRCTC की वेबसाइट या ऐप से बुक किये जा सकते हैं। ये टिकट तत्काल कोटा के तहत बुक कराने होंगे और नियमित टिकट से इसके लिए यात्रियों को ज्यादा पैसे चुकाने होंगे ऐसा रेलवे ने स्पष्ट किया है। रेल टिकट बुकिंग की अवधि 30 दिनों से बढ़ाकर 120 दिन कर दी गई है। 30 विशेष राजधानी और 200 विशेष मेल और एक्सप्रेस के लिए एडवांस्ड रिजर्वेशन पीरियड (ARP) के अनुसार ट्रेन के आरक्षण के नियम में सुधार किये गये हैं।


बता दें कि रेलवे द्वारा मई महीने से ही विशेष ट्रेनें चलाई जा रही हैं। 25 मार्च से लॉकडाउन लागू होने के कारण रेलवे की आवाजाही बंद है। कोरोना का संक्रमण और न बढ़े इसलिए 12 अगस्त तक रेलवे की मेल, एक्सप्रेस और पैसेंजर सहित उपनगरीय लोकल गाड़ियों की सेवाएं 12 अगस्त तक बंद ही रहेंगी। वहीं जिन यात्रियों ने 14 अप्रैल के पहले गाडियों के टिकट बुक किये थे उन्हें रिफंड दिया जा रहा है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।