Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

V-shape रिकवरी की संभावना नहीं, ब्रोकरों के पसंदीदा 10 शेयर जो करा सकते हैं जोरदार कमाई

यहां हम 10 ऐसे लॉर्जकैप स्टॉक बता रहे हैं जो ब्रोकरेज हाउसेज की टॉप पिक्स में शामिल हैं।
अपडेटेड Jul 11, 2020 पर 10:57  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Nishant Kumar @Nishantopines


कोरोना के बढ़ते मामलों और कमजोर होते माइक्रो इकोनॉमिक संकेतों के बीच भारतीय बाजारों में भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। हालांकि बाजार मार्च के अपने निचले स्तर से काफी ऊपर नजर आ रहा है लेकिन इसकी मजबूती संदेह के दायरे में बनी हुई है।


जानकारों का कहना है कि सरकार और केंद्रीय बैंक की कोशिशों से देश की आर्थिक स्थिति बहुत ज्यादा खराब होने से बच गई है लेकिन इस बात की भी संभावना नहीं है कि इकोनॉमी में वी-शेप रिकवरी देखने को मिलेगी। Angel Broking का कहना है कि ग्लोबल इकोनॉमी को कोरोना के पहले की स्थिति में आने में कुछ समय लग सकता है।


Angel Broking का कहना है कि लंबे नजरिए से बाजार पर पॉजिटिव नजरिया रखते हुए भी हमारी यह राय है कि निवेशकों को निवेश के लिए शेयर चुनते समय काफी सावधानी बरतनी चाहिए और ऐसी कंपनियों पर दांव लगाना चाहिए जिनका बिजनेस मॉडल मजबूत हो और आगे जिनके कारोबार में अच्छी बढ़त की उम्मीद हो।


यहां हम 10 ऐसे लॉर्जकैप स्टॉक बता रहे हैं जो ब्रोकरेज हाउसेस की टॉप पिक्स में शामिल हैं।


Geojit Financial Services की पसंद


ICICI Bank | खरीदें | भाव- 368.90 रुपये  | लक्ष्य 420 रुपये  | अपसाइड  14%


इस चुनौतीपूर्ण समय में भी बैंक के एडवांस में सालाना आधार पर 10 फीसदी की ग्रोथ देखने को मिली है। बैंक की बैलेसशीट काफी मजबूत है। आगे बैंक के कारोबार में लॉकडाउन खुलने के साथ ही अच्छी बढ़त देखने को मिलेगी।



Dr Reddys Laboratories | खरीदें | भाव 3,885.85 | लक्ष्य 4,344 | अपसाइड 12%



डॉ रेड्डीज की अमेरिकी बाजार में वित्त वर्ष 2021 में 25 प्रोडक्ट लॉन्च करने की तैयारी है। 31 मार्च तक कंपनी में यूएस एफडीए के समक्ष 101 (99 ANDAs and 2 NDAs) फाइलिंग कर रखी थी। कंपनी की मजबूत पाइपलाइन और वित्त वर्ष 2020 में सभी सेग्मेंटों में अच्छी ग्रोथ को देखते हुए आगे इसके कारोबार में शानदार बढ़त देखने को मिल सकती है। जियोजित फाइनेशियल का मानना है कि इस शेयर में 12 फीसदी की अपसाइड आसानी से देखने को मिल सकती है।



Colgate-Palmolive (India) |खरीदें | भाव 1,391 | लक्ष्य  1,718 | अपसाइड- 24%
 
Colgate-Palmolive (India) भारत में ओरल और बॉडी केयर प्रोडक्ट बनाने वाली अहम कंज्यूमर प्रोडक्ट कंपनी है। इंडियन ओरल केयर सेगमेंट में कंपनी की 50 फीसदी हिस्सेदारी है। यह डिंफेसिव स्टॉक है। मंदी की स्थिति में भी लोग इसके प्रोडक्ट खरीदते है। आगे भी कंपनी के कारोबार में अच्छी बढ़त देखने को मिल सकती है। इस शेयर में आसानी से 24 फीसदी का अपसाइड देखने को मिल सकता है।


HDFC |खरीदें | भाव  1,884.60 | लक्ष्य 2,166 | अपसाइड  15%


HDFC, कॉपोर्रेट और इंडिविजुअल को हाउसिंग फाइनेंस की सुविधा देती है। इसके AUM में तिमाही आधार पर  2.3 फीसदी और सालाना आधार पर 12 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है। पिछले 5 साल में इसके इंडिविजुअल लोन में सालाना आधार पर 18 फीसदी और कंसोलिडेटेड मुनाफे में सालाना आधार पर 21 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है। आगे भी कंपनी के कारोबार में अच्छी बढ़त देखने को मिलेगी।  इस शेयर में आसानी से 15% का अपसाइड देखने को मिल सकता है।


Angel Broking की पसंदीदा लॉर्जकैप शेयर


Bharti Airtel | खरीदें | भाव 561.25 | लक्ष्य  672 | अपसाइड - 20%


Angel Broking का अनुमान है कि लॉकडाउन का भारती एयरटेल पर बहुत मामूली असर पड़ेगा। लॉकडाउन की वजह से दैनिक मजदूरी पर निर्भर निम्न आय वर्ग के लोगों से कंपनी को होनो वाली आय पर असर होगा। हालांकि इस घाटे की भरपाई लॉकडाउन के दौरान डेटा यूज में बढ़ोतरी से हो जायेगी। हाल ही में टेलीकॉम ऑपरेटरों ने टैरिफ में बढ़ोतरी की है। 2021 में भी हमें ट्रैरिफ में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है अगर वोडाफोन-आइडिया कारोबार से बाहर हो जाता है तो उसका भी फायदा भारती को मिलेगा। आगे इस शेयर में 20 फीसदी का अपसाइड देखने को मिल सकता है।


Larsen & Toubro (L&T) | खरीदें | भाव 941.05 |  खरीदें 1,093 | अपसाइड  16%


Larsen & Toubro भारत की सबसे EPC कंपनियों में है जो इंफ्रा, हाइड्रोकार्बन सहित तमाम सेक्टर में काम करती है। आईटी और एनबीएफसी सेक्टर में भी कंपनी की पैठ है। कंपनी के पास करीब 3 लाख करोड़ रुपये के ऑर्डर है जिसमें से अधिकांश ऑर्डर सरकार से मिले हैं जिनमें कम जोखिम है। आगे इस शेयर में 16% का अपसाइड देखने को मिल सकता है।


Britannia Industries |खरीदें | भाव 3,676.35 | लक्ष्य  3,920 |अपसाइड  7%


Britannia के पास टाइगर, गुड -डे और 50-50 जैसे मजबूत ब्रैन्ड है। कंपनी की बाजार हिस्सेदारी करीब 33 फीसदी है। कंपनी के आय में बिस्कुट का योगदान 80 फीसदी से ज्यादा है। चौथी तिमाही में कंपनी ने शानदार प्रदर्शन किया है। कोरोना काल में फूड इंडस्ट्री, स्ट्रीट फूड और रेस्ट्रोरेंट से रुख बदलकर घरेलू खाने की तरफ रुख कर रही है जिसका फायदा कंपनी को मिलेगा। आगे इस शेयर में 7% का अपसाइड देखने को मिल सकता है।


Reliance Industries (RIL) | खरीदें | भाव  1797.35 | लक्ष्य 1,937 | अपसाइड  8%


रिलायंस ने टेलीकॉम सेक्टर में मजबूत पकड़ बना ली है और वित्त वर्ष 2020 की चौथी तिमाही के अंत तक 38.3 करोड़ सब्सक्राइबर के साथ टेलीकॉम बिजनेस में मार्केट लीडर की स्थिति हासिल कर ली है। अगले 5 साल में कंपनी के टेलीक़ॉम बिजनेस में ट्रैरिफ बढ़ने और दूसरे ऑपरेटरों के सब्सक्राइबरों के रिलायंस जियो में सिफ्ट होने से जोरदार बढ़त देखने को मिलेगी। रिलायंस , रिटेल बिजनेस मे भी मजबूती से कदम बढ़ा रही है। जानकारों का मानना है कि आगे आनेवाले वर्षों में रिटेल बिजनेस रिलायंस के कारोबार को जोरदार मजबूती देगा। हालही में कंपनी में 12 निवेशकों से 1.17 लाख करोड़ रुपये का भारी भरकम निवेश देखने को मिला है। आगे इस शेयर में 8% का अपसाइड देखने को मिल सकता है।


Axis Bank | खरीदें | भाव 444.15 | लक्ष्य 500 | अपसाइड  13%



कम लागत पर पर्याप्त लिक्विडिटी जुटाने की क्षमता ही वर्तमान स्थिति में बैंकों के सफलता का मूल मंत्र होगा। इस नजरिए से एक्सिस बैंक खरा उतरता है। पिछले 2 तिमाहियों में बैंक के डिपॉजिट ग्रोथ में शानदार बढ़त देखने को मिली है। एंजेल ब्रोकिंग का मानना है कि इस शेयर में 13 फीसदी का अपसाइड देखने को मिल सकता है।



Hindustan Unilever (HUL) | खरीदें | भाव 2,185.30 | लक्ष्य 2,404 | अपसाइड 10%


HUL भारत में साबुन, डिटर्जेंट, पर्सनल केयर प्रोडक्ट और प्रोसेस्ड फूड बनाने वाली अहम कंपनी है। इसके अलावा कंपनी आइस्क्रीम, कूकिंग ऑयल , फर्टिलाइजर और hybrid seed बनाने का भी काम करती है। कंपनी देश का काफी बड़ा और मजबूत ब्रॉन्ड है। कंपनी की बैलेसशीट काफी मजबूत है और यह लगातार मुनाफे में रही है। आगे कंपनी के मुनाफे में अच्छी बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है।  एंजेल ब्रोकिंग का मानना है कि इस शेयर में  10% का अपसाइड देखने को मिल सकता है।


डिस्क्लोजरः मनीकंट्रोल डॉट कॉम रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है। नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है।


(डिस्क्लेमरः  Moneycontrol.com पर दिए जाने वाले विचार और निवेश सलाह निवेश विशेषज्ञों के अपने निजी विचार और राय होते हैं। Moneycontrol यूजर्स को सलाह देता है कि वह कोई निवेश निर्णय लेने के पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट से सलाह लें।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।