Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आरोग्य सेतु के जरिए हो रहा अवैध e-pharmacies का प्रोमोशन: स्वदेशी जागरण मंच

स्वदेशी जागरण मंच ने कहा है की आरोग्य सेतु ऐप पर अवैध e-pharmacie कंपनियों का प्रचार किया जा रहा है।
अपडेटेड May 08, 2020 पर 18:12  |  स्रोत : Moneycontrol.com

आरएसएस के सहयोगी संगठन स्वदेशी जागरण मंच के अश्वनी महाजन ने नीति आयोग के CEO अमिताभकांत की तरफ पीएम मोदी का ध्यान आकर्षित करते हुए कहा है कि अमिताभकांत Aarogya Setu app के जरिए  अवैध e-pharmacies (ऑन लाइन दवा बेचने वाली कंपनियां)  का प्रचार कर रहे हैं। अश्वनी महाजन का कहना है कि ये e-pharmacies भारत में अवैध रूप से काम कर रही हैं।


अश्वनी महाजन  ने 7 मई के अपने एक ट्विटर पोस्ट में पीएम मोदी से अपील करते हुए कहा है कि नीति आयोग के सीईओ भारत में Aarogya Setu app पर भारत में अवैध रूप से बिना मंजूरी के काम कर रही e-pharmacies का प्रचार कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारत में कोरोना वायरस से निपटने के लिए बनाए गए ऐप के जरिए फॉरेन फंडेड e-pharmacies का प्रोमोशन किया जा रहा है।


उन्होंने अपने ट्वीट में कॉमर्श और इंडस्ट्री मिनिस्टर पीयूष गोयल और स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन को भी टैग किया है।


अश्वनी महाजन ने अमिताभकांत के उस ट्वीट का स्क्रीनशॉट भी अटैच किया है जिसमें कहा गया है कि अब आपके आरोग्य सेतु ऐप पर ऑनलाइन मेडिकल कंसल्टेशन (कॉल और वीडियो), होम लैब टेस्ट और ई-फार्मेसी की सुविधा मिलेगी। अश्वनी महाजन ने इसके साथ ही दिल्ली उच्चन्यायालय के 12 दिसंबर 2018 के जहीर अहमद बनाम भारत संघ मामले में दिए गए आदेश की प्रति भी अटैच की है ।


बता दें कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए  राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना तकनीकी मंत्रालय के साथ मिलकर आरोग्य सेतु एप तैयार किया है। इस ऐप के जरिए कोरोनावायरस या कोविड-19 को लेकर यूजर तक न सिर्फ सटीक और सही जानकारियां पहुंचाई जाती है बल्कि उन्हें किसी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से भी रोका जा सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।