रियल एस्टेट के अकाउंटिंग नियमों में बदलाव -
Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

रियल एस्टेट के अकाउंटिंग नियमों में बदलाव

प्रकाशित Mon, 11, 2018 पर 12:49  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रियल एस्टेट कंपनियों के अकाउंटिंग नियमों में बदलाव किए गए हैं। अब जारी प्रोजेक्ट के आधार पर अकाउंटिंग नहीं होगी। इस बदलाव से रियल एस्टेट कंपनियों की आमदनी पर कुछ असर पड़ सकता है। अकाउंटिंग के नए नियम 1 अप्रैल 2018 से लागू होंगे। नए नियम में बन चुके प्रोजेक्ट शामिल होंगे, लेकिन बन रहे प्रोजेक्ट के आधार पर अकाउंटिंग नहीं होगी। प्रोजेक्ट पूरा होने पर ही आमदनी में दिखाया जाएगा।


नए अकाउंटिंग नियमों के चलते रियल एस्टेट कंपनियों की आमदनी पर कुछ असर पड़ सकता है। साथ ही किसी साल मुनाफे में तेज बढ़त तो किसी साल भारी घाटा भी दिख सकता है। इस बदलाव से डीएलएफ, गोदरेज प्रॉपर्टीज, ओबेरॉय रियल्टी, प्रेस्टीज एस्टेट, फीनिक्स मिल्स, शोभा और सनटेक रियल्टी जैसी कंपनियों पर असर संभव है।