Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

अडानी ग्रुप के शेयरों का मार्केट कैप एक दिन में 1.03 लाख करोड़ रुपए घटा, अब इनमें क्या करें!

संजीव अग्रवाल का कहना है कि अडानी ग्रुप के शेयरों में इस समय कोई ट्रेड न लेने की सलाह होगी
अपडेटेड Jun 15, 2021 पर 09:14  |  स्रोत : Moneycontrol.com

ADANI GROUP के शेयरों में भारी गिरावट देखने को मिल रही है।  ADANI PORTS 15 फीसदी  टूटा है। ग्रुप के अन्य शेयर भी 5 से 10 फीसदी तक फिसले हैं। ग्रुप में निवेश करने वाले 3 FPI के खाते के फ्रीज होने के बाद बिकवाली देखने को मिली है। NSDL ने तीनों फंड पर सिक्योरिटीज के खरीद-फरोख्त पर रोक लगाई है।


Albula Investment, Cresta Fund, APMS Invest के खाते फ्रीज किए गए हैं। तीनों फंड के पास अडानी ग्रुप के 43500 करोड़ रुपए के शेयर हैं। NSDL ने तीनों फंड पर सिक्योरिटीज के खरीद-फरोख्त पर रोक लगाई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सेबी इस  बात की भी जांच कर रही है कि क्या अडानी ग्रुप के शेयरों में प्राइस मैन्युपुलेशन किया गया है।

NSDL ने अडानी ग्रुप के 43,500 करोड़ रुपये के शेयर्स रखने वाले 3 FPI के एकाउंट ब्लॉक किए

बता दें कि पिछले 1 साल में अडानी ग्रुप के शेयरों में 200-1000 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है। अडानी टोटल गैस का शेयर में इस साल 11 जून तक 334 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है। वहीं, इसी अवधि में अडानी ट्रांसमिशन, अडानी एंटरप्राइज औरअडानी पावर में 200 से 265 फीसदी की तेजी देखने को मिली है।


इस खबर के बाद आज के कारोबार में अडानी ग्रुप के शेयरों में जोरदार गिरावट देखने को मिली है। अदानी ग्रुप के सभी शेयरों को मिलाकर देखें तो इनके मार्केट कैप करीब 10 फीसदी यानी 1.03 लाख करोड़ रुपये की गिरावट देखने को मिली। हालांकि पिछले एक साल से अदानी ग्रुप के शेयर उफान में नजर आ रहे थे।


अब अडानी ग्रुप के शेयरों में क्या करें


सवाल ये है कि अब अडानी ग्रुप के शेयरों में क्या करें। Alpha Quantum Capital Management के संजीव अग्रवाल का कहना है कि अडानी ग्रुप के शेयरों में इस समय कोई ट्रेड न लेने की सलाह होगी। इस ग्रुप के अधिकांश शेयर इस समय ऑपरेटरों के कंट्रोल में हैं। ये खबर बाहर आने के साथ ही इनसे जुड़ा जोखिम और बढ़ गया है। इस ग्रुप के कभी भी किसी भी तरफ से कोई बडा मूव आ सकता है। जिन लोगों के पास इन शेयरों की लॉन्ग पोजीशन है, उन्हें संयम के साथ इन शेयरों में  बने रहना चाहिए और किसी बाउंस की स्थिति में निकल जाना चाहिए।


अडानी ग्रुप के शेयर 5-20% तक टूटे, जानिए क्यों मची है शेयरों में मारकाट?

एंजल ब्रोकिंग के यस गुप्ता का कहना है कि मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, कुछ म्यूचुअल फंडों के साथ अदानी ग्रुप के शेयर बडी़ मात्रा में है और सेबी में इस बारे में शिकायत भी दर्ज कराई गई है। आज से अदानी ग्रुप के 4 स्टॉक को T2T (trade 2 trade)  में शिफ्ट कर दिया गया है। इसका मतलब ये है कि इन शेयरों में इंट्रा डे ट्रेडिंग नहीं हो पाएगी। निवेशकों को इन शेयरों में काररोबार के लिए होल्डिंग लेनी और देनी होगी।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.