Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

After The Bell: निफ्टी 15700 के नीचे फिसला, गुरुवार को क्या हो बाजार में निवेश रणनीति

बाजार जानकारों का कहना है कि 15800-15900 की और जाने के लिए निफ्टी को 15700 के ऊपर टिका रहना होगा। वहीं नीचे की तरफ निफ्टी के लिए 15600-15550 के जोन में सपोर्ट है।
अपडेटेड Jun 24, 2021 पर 10:48  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सुस्त ग्लोबल संकेतों और एफआईआई की तरफ से लगातार हो रही बिकवाली के चलते आज बाजार में कमजोरी देखने को मिली। सेसेंक्स आज करीब 300 अंक फिसला। वहीं निफ्टी 15700 के नीचे बंद हुआ ।


गौरतलब है कि 21 और 22 जून को  एफआईआई ने भारतीय इक्विटी बाजारों में 2000 करोड़ रुपये से ज्यादा की बिकवाली की है। वहीं मंथली बेसिस पर देखें तो एफआईआई अभी भी नेट बायर बने हुए है। जून में अभी तक एफआईआई की तरफ से 3576 करोड़ रुपये की खरीदारी देखने को मिली है।


जियोजित फाइनेशिंयल सर्विसेस के विनोद नायर का कहना है कि घरेलू बाजार में किसी बड़े ट्रिगर के अभाव और बाजार से फॉरेन फंड की निकासी की वजह से निवेशक साइडलाइन बने हुए हैं और बाजार में कंसोलिडेशन देखने को मिल रहा है। विदेशी संकेत भी मिलेजुले हैं।


उन्होंने आगे कहा कि आज के कारोबार में ऑटो को छोड़कर सभी सेक्टर लाल निशान में बंद हुए। ऑटो सेक्टर की सभी बड़ी कंपनियों ने कीमतें बढ़ानें का निर्णय लिया है जिसका असर ऑटो सेक्टर पर देखने को मिल रहा है। धीरे-धीरे लॉकडाउन के हटने औऱ वैक्सीनेशन में तेजी से आगे हमें इकोनॉमिक गतिविधियां बढ़ती दिखेंगी जिसका असर इस वित्त वर्ष के दूसरी छमाही में देखने को मिलेगा।



कल क्या हो बाजार में रणनीति


BNP Paribas के गौरव रतनपारखी का कहना है कि गैपअप ओपनिंग के बाद निफ्टी ने आज 15900 के हालिया हाई को छूने की कोशिश की लेकिन उसको प्रतिरोध का सामना करना पड़ा उसके बाद निफ्टी फिसल गया और इसने डेली चार्ट पर एक इनगल्फिंग बीयर कैंडल बनाया।


इस बैयरिश कैडल का बनाना इस बात का संकेत है कि निफ्टी कंसोलिडेशन के मोड में है और इस पर ऊपरी स्तर पर दबाव है। निफ्टी नीचे की तरफ 15600 की तरफ जा सकता है। गौरव रतनपारखी का कहना है पोजिशनल ट्रेडर्स 15600 के आसपास फ्रेश लॉन्ग ले सकते हैं। शॉर्ट टर्म कंसोलिडेशन पूरा होने के बाद निफ्टी में तेजी का अगला दौर शुरु होगा और ये 16000 का स्तर छू लेगा।


Kotak Securities के श्रीकांत चव्हाण का कहना है कि आज बाजार में भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिला। तेजी के साथ खुलने के बाद यह लाल निशान में बंद हुआ। इसकी वजह मंथली और तिमाही  F&O contracts की एक्सपायरी और गुरुवार को होने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज की एजीएम हो सकती है।


गुरुवार को बाजार 15800/52800 और 15550/51700 के बीच घुमता नजर आएगा। अगर 15670/52250 के नीचे जाता है तो फिर यह गिरावट औऱ बढ़ सकती है और हमें 15550/51700 का स्तर भी देखने को मिल सकता है।


इसके उलटे अगर सेसेक्स-निफ्टी 15670/52250 के ऊपर टिके रहते है तो फिर हमें ऊपर की तरफ 15800/52800 का स्तर देखने को मिल सकता है।


Motilal Oswal Financial Services के चंदन तपड़िया का कहना है कि आज निफ्टी ने करीब 85 अंकों की गिरावट के साथ डेली स्केल पर बियरिश बेल्ट होल्ड कैंडल बनाया। उनका कहना है कि 15800-15900 की और जाने के लिए निफ्टी को 15700 के ऊपर टिका रहना होगा। वहीं नीचे की तरफ निफ्टी के लिए 15600-15550 के जोन में सपोर्ट है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.