Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

After The Bell:Nifty एक बार फिर 14500 के पार, बाजार में कल क्या हो निवेश रणनीति

भारतीय बाजारों में आज यानी मंगलवार को मजबूत बाउंसबैक देखने को मिला।
अपडेटेड Apr 14, 2021 पर 10:28  |  स्रोत : Moneycontrol.com

भारतीय बाजारों में आज यानी मंगलवार को मजबूत बाउंसबैक देखने को मिला। सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ही आज अपने अहम रजिस्टेंस स्तर से ऊपर चले गए। Sensex में आज 600 अंकों से ज्यादा की रेली देखने को मिली जबकि निफ्टी एक बार फिर 14,500 का स्तर हासिल करने में सफल रहा।


D-Street के फाइनल टैली पर नजर डालें तो Sensex आज 660  अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ। वहीं, निफ्टी 194 अंकों की बढ़त के साथ 14,504 के स्तर पर बंद हुआ।


आज के कारोबार में auto, finance, metals, banks और public sector stocks में खरीदारी देखने को मिली। वहीं, IT और healthcare stocks में बिकवाली देखने को मिली।


दिग्गज शेयरों के साथ ही छोटे और मझोले शेयरों में भी तेजी देखने को मिली BSE Midcap index आज 1.4 फीसदी बढ़त के साथ बंद हुआ है। वहीं, BSE Smallcap index 1.2 फीसदी बढ़त के साथ बंद हुआ है।


Geojit Financial Services के Vinod Nair ने मनीकंट्रोल से बात करते हुए कहा कि बाजार ने आज कल की बिकवाली से उबरने की कोशिश की लेकिन उतना जोश नहीं दिखा की कल के झटके से एकबार में ही उबरा जा सके। मुनाफा वसूली के चलते आईटी शेयर आज ट्रेंड तोड़ते नजर आए। आईटी सेक्टर के शुरुआती नतीजे उम्मीद के अनुरूप ही रहे हैं जिससे इस काफी महंगे हो चुके सेक्टर को मुनाफा वसूली से निजात मिलती नहीं दिखी।


manufacturing और mining सेक्टरों में कमजोरी के कारण फरवरी में इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन में  3.6 फीसदी की गिरावट देखने को मिली। मार्च में भारत की खुदरा महंगाई भी बढ़कर 5.52 फीसदी के स्तर पर पहुंच गई है। हालांकि इससे बाजार सेंटीमेंट पर आज कोई असर आता नहीं दिखा क्योंकि ये हाल में किए गए RBI पॉलीसी फोरकॉस्ट  के अनुरूप ही थे। Vinod Nair ने  आगे कहा कि लॉकडाउन का इकोनॉमी पर कैसा असर पड़ता है अब यही घरेलू बाजार की आगे की दिशा तय करेगा।


कल बाजार में क्या हो निवेश रणनीति


CapitalVia Global Research के आशीष बिस्वास का कहना है कि आज के कारोबार में पहले आधे कारोबारी सत्र में सुस्ती रही। इस दौरान बाजार ने 14500 का रजिस्टेंस तोड़ने का प्रयास किया। शॉर्ट टर्म टेक्निकल स्थिति इस बात की ओर संकेत कर रही है कि साइडवेज कंसोलीडेशन की प्रक्रिया चल रही है। अगर निफ्टी  14500 के ऊपर टिका रहता है तब इसमें तेजी आती दिखेगी और ये 14,800 के लेवल की तरफ जा सकता है।


Motilal Oswal Financial Services के चंदन तापड़िया का कहना है कि Nifty50 index ने डेली स्केल पर लॉन्ग लोअर शैडो के साथ एक बुलिश कैंडल और एक Inside Bar बना लिया है जो इस बात का संकेत है कि गिरावट में खरीदारी हो रही है। एक बार फिर 14650 -14800  के जोन में जाने के लिए निफ्टी को 14500 के स्तर को होल्ड करना होगा। वहीं नीचे की तरफ निफ्टी के लिए 14250 -14100 स्तर पर मजबूत सपोर्ट है।


Chartviewindia.in के मजहर मोहम्मद का कहना है कि जोखिम मैनेजमेंट के नजरिए से क्लोजिंग बेसिस पर 14300 के नीचे स्टॉपलॉस के साथ रिलीफ रैली की उम्मीद की जा सकती है। इस स्थिति में निफ्टी अगर 14280 के ऊपर बना रहता है तो फिर ये हमें 14600 – 652 के स्तर की तरफ जाता दिख सकता है। इसके बावजूद अच्छा यही रहेगा कि इंडेक्स को लेकर अभी न्यूट्रल नजरिया बनाए रखें और कोई नया शॉर्ट साइड एक्सपोजर लेने के लिए निफ्टी में कमजोरी के नए संकेत दिखने का इंतजार करें।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.