Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

After The Bell: निफ्टी एक बार फिर 15,800 के पार, शुक्रवार को बाजार में क्या हो निवेश रणनीति

आज के कारोबार में सेंसेक्स 639 अंकों की तेजी के साथ 52,837 के स्तर पर बंद हुआ है
अपडेटेड Jul 23, 2021 पर 09:13  |  स्रोत : Moneycontrol.com

तीन दिन के लगातार गिरावट के बाद बाजार में आए तेज बदलाव ने निफ्टी को 22 जुलाई को एकबार फिर 15800 के पार पहुंचा दिया। आज अहम इंडेक्स कराब 1 फीसदी बढ़त के साथ बंद होने में कामयाब रहे हैं। आज के कारोबार में सेंसेक्स  639 अंकों की तेजी  के साथ 52,837 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं, निफ्टी 191 अंकों की बढ़त के साथ 15,824 के स्तर पर बंद हुआ है।


छोटे-मझोले शेयरों ने आज दिग्गजों की तुलना में ज्यादा बेहतर प्रदर्शन किया है। BSE midcap और smallcap इंडेक्स आज 1.5 फीसदी तक चढ़े हैं।


Julius Baer के मिलिंद मुछाला (Milind Muchhala) का कहना है कि अच्छे ग्लोबल संकेतों और  Q1FY22 अर्निंग सेशन के अच्छे शुरुआत के साथ ही भारतीय बाजारों में अच्छी तेजी लौटती दिखी। बाजार साफतौर पर ऐसे शेयरों और सेक्टरों को तवज्जो दे रहा है जहां मजबूती आती दिख रही है और जहां ग्रोथ की संभावना दिख रही है। आईटी, सीमेंट, मेटल और केमिकल हेल्थकेयर में तेजी की वजह यही है।


उन्होंने आगे कहा कि दिग्गजों के साथ ही छोटे-मझोले शेयरों में भी जोश देखने को मिल रहा है। हालांकि अब वैल्यूशन पर नजर रखना काफी कठिन हो गया है क्योंकि कुछ स्टॉक्स में काफी बड़ी री-रेटिंग देखने को मिली है।


अलग-अलग सेक्टरों पर नजर डालें तो आज के कारोबार में metals, telecom, capital goods और power में खरीदारी देखने को मिली। इनमें आज 2 फीसदी से ज्यादा की तेजी देखने को मिली। हालांकि FMCG index में कुछ मुनाफा वसूली देखने को मिली।


India VIX 9.96 फीसदी गिरकर 13.20 से घटकर 11.88 के स्तर पर आ गया है। वैलेटिलिटी इंडेक्स में गिरावट इस बात का संकेत है कि बाजार की लगाम एक बार फिर बुल्स के हाथ में आ गई है और हर गिरावट पर खरीदारी आती दिख रही है।


ऑप्शन के मोर्चे पर देखें तो अधिकतम पुट ओपन इंटरेस्ट 15,000 और 15,500 स्ट्राइक पर देखने को मिला है। वहीं, अधिकतम कॉल ओपन इंटरेस्ट 16,000 और 15,800 स्ट्राइक पर हैं। 16,000 और उसके बाद 16,100  स्ट्राइक पर कॉल राइटिंग देखने को मिली है। ऑप्शन डेटा से संकेत मिलता है कि निफ्टी 15,600-16,000 के दायरे में कारोबार कर सकता है।


शुक्रवार को क्या हो बाजार में रणनीति


Motilal Oswal के चंदन तापड़िया का कहना है कि  Nifty ने आज डेली स्केल पर  एक बुलिश कैंडल बनाया और दो कारोबारी दिनों के लोअर हाई-लोअर लो फार्मेंशन को नकार दिया। निफ्टी को 15,962 और 16,000 की तरफ जानें के लिए  15,800  कए ऊपर टिकना होगा। निफ्टी के लिए नीचे की तरफ 15,700 और 15,600 पर सपोर्ट नजर आ रहा है।


Geojit Financial के विनोद नायर का कहना है कि मजबूत ग्लोबल संकेतों के दम पर भारतीय बाजारों में भी आज तेजी देखने को मिली। बाजार आज कोरोना के बढ़तो मामलों और एफआईआई की बिकवाली की चिंता को दरकिनार करता नजर आया। कंपनियों के अच्छे नतीजों के चलते ग्लोबल बाजारों में तेजी कायम है। बाजारों की नजर अब यूरोपियन सेंट्रल बैंक के पॉलीसी एनाउंसमेंट पर है। अगर Fed अपनी अगली मीट में सपोर्टिव पॉलिसी जारी रखने को संकेत देता है तो रैली आगे बढ़ेगी।


LKP Securities के एस रंगनाथन का कहना है कि बाजार में बुल्स ने जोरदार वापसी की है। ICICI Group शेयरों ने भी आज तेजी दिखाई। जुबिलैंट फूड की लीडरशिप में QSR सेगमेंट में भी तेजी देखने को मिली।


CapitalVia Global Research के आशीष बिस्वास का कहना है कि बाजार में आज कुछ पॉजिटिव मूवमेंट देखने को मिला। इसने निफ्ची के 15,800 के स्तर के आसपास सपोर्ट को होल्ड करने की कोशिश की और इसमें ये कामयाब भी रहा। उन्होंने आगे कहा कि शार्ट-टर्म के मार्केट ट्रेंड के लिए निफ्टी का 15800 के ऊपर टिकना काफी अहम होगा। अग निफ्टी इस लेवल के ऊपर टिके रहने में कामयाब रहता है तो फिर इसमें हमें 15,900-15,950 का स्तर भी देखने को मिल सकता है।
 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.