अमेरिका ने तोड़ा समझौता, ईरान पर आर्थिक प्रतिबंध! -
Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

अमेरिका ने तोड़ा समझौता, ईरान पर आर्थिक प्रतिबंध!

प्रकाशित Wed, 09, 2018 पर 07:57  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अमेरिका ईरान के साथ परमाणु समझौता से अलग हो गया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इसका एलान किया है। ट्रंप ने कहा है कि ईरान पर आर्थिक प्रतिबंध भी लगाए जाएंगे और अगर न्यूक्लियर हथियारों को लेकर किसी देश ने ईरान की मदद की तो उसके खिलाफ भी कड़े प्रतिबंध लगाए जाएंगे। बता दें कि ईरान के साथ न्यूक्लियर डील 2015 में हुई थी जिसमें अमेरिका समेत ब्रिटेन, चीन, फ्रांस, जर्मनी, रूस और ईरान शामिल थे। इस बीच फ्रांस के राष्ट्रपति ने ट्रंप के फैसले पर दुख जताया है।


अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा है कि अमेरिका ईरान का परमाणु ब्लैकमेल नहीं सहेगा। ईरान पर आर्थिक प्रतिबंध तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है। अब तमाम कंपनियों को ईरान से कारोबारी रिश्ते तोड़ने होंगे। इसके लिए विदेशी कंपनियों को 3 से 6 महीने का वक्त मिलेगा। ईरान पर दोबारा बैन से क्रूड में जोरदार तेजी देखने को मिली है।


क्या है पूरा विवाद इस पर नजर डालें तो ईरान पर परमाणु समझौते के उल्लंघन करने और छिपकर अपने परमाणु कार्यक्रमों को जारी रखने का आरोप है। अमेरिका ईरान के मिसाइल कार्यक्रम के खिलाफ है। 2015 में अमेरिका-ईरान परमाणु समझौता हुआ था। समझौते के बाद ईरान को प्रतिबंधों में आंशिक रियायत दी गई थी। अब अमेरिका 2015 के ईरान परमाणु समझौते से हट गया है।


ऑयल एक्सपर्ट नरेंद्र तनेजा का कहना है कि अमेरिका के इस कदम से तेल के बाजार का महौल बिगड़ेगा। क्रूड अब 80 डॉलर प्रति बैरल का स्तर दिखा सकता है। ये डील टूटने से ग्लोबल व्यापार पर असर होगा।


क्रूड 80 डॉलर प्रति बैरल हुआ तो भारत के परेशानी होगी। पेट्रोल महंगा हुआ तो तो सरकार को टैक्स घटाना होगा।


इस बीच इंडिया ऑयल ने पहली बार माना है कि अभी कंपनी पेट्रोल, डीजल के दाम में बदलाव नहीं कर रही है। कंपनी के चेयरमैन संजीव सिंह के मुताबिक अस्थायी तौर पर पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर रखने का फैसला लिया गया है। ग्राहकों में घबराहट नहीं फैले इसलिए यह फैसला लिया गया है।