Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आधार में जुड़ा एक और नया विवाद

प्रकाशित Sat, 04, 2018 पर 12:56  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

ट्राई चेयरमैन आरएस शर्मा की आधार डीटेल्स लीक होने का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि आधार में एक नया विवाद और जुड़ गया। कई एंड्राइड स्मार्टफोन यूजर्स के फोन में अचानक यूडीआईएआई के नाम से फर्जी नबंर सेव हो गया। यूजर्स ने जब इसकी शिकायत ट्विटर पर की तो यूडीआईएआई ने सफाई दी और कहा कि जो नंबर आ रहा है वो यूडीआईएआई का नहीं है।


यूडीआईएआई ने बताया कि उनका हेल्पलाइन नंबर सिर्फ 1947 है, इसके अलावा कोई भी यूडीआईएआई का प्रमाणिक नंबर नहीं है और यूडीआईएआई का टोल फ्री 18003001947 नंबर है। हैकर्स का आरोप है कि आधार इसके जरिए निगरानी कर रहा है, लेकिन अधार अथॉरिटी ने इसका खंडन किया है। टेलीकॉम कंपनियों, मोबाइल निर्माता कंपनियों को किसी तरह का कोई निर्देश नहीं दिया है।


यूडीआईएआई ने बताया कि जिस नंबर से यूजर्स को फोन आया वह हेल्पलाइन का नंबर 2 साल पुराना है। हालांकि इस मामले में टेलीकॉम कंपनियों ने भी पल्ला झाडा रही है। टेलीकॉम कंपनियों का कहना है कि आधार का हेल्पलाइन नंबर उनके जरिए नहीं आया है। गुगल के जरिए आधार का नंबर आने की आशंका हो सकती है। एंड्रोइड मोबाइल इंटरनेट से जुड़ने के बाद सर्वर से अपडेट लेता है।