Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

पाकिस्तान को भारी पड़ी व्यापार पर रोक, ठंडे पड़े इमरान खान के तेवर

इमरान खान ने यू-टर्न ले लिया है लेकिन उनके मंत्री पर जंग का भूत सवार है।
अपडेटेड Sep 04, 2019 पर 11:55  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब ऐसा लग रहा है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पूरी तरह कंफ्यूज हो गए हैं। वो समझ नहीं पा रहे हैं कि कब क्या बोलना है और इमरान खान से ज्यादा कनफ्यूज्ड हैं उनके रेलमंत्री शेख रशीद। पहले तो वो भारत से युद्ध का एलान कर रहे थे लेकिन अब वो पाव भर और आधा पाव के परमाणु बम की बात करने लगे हैं। लेकिन ये अंतर्राष्ट्रीय दबाव है या खुद की समझदारी कि इमरान खान को समझ में आ गया कि जिस देश में लोगों को खाने के लाले पड़े हों, वो क्या युद्ध करेगा। इसीलिए वो अब कह रहे हैं कि पाकिस्तान भारत के साथ युद्ध की शुरुआत नहीं करेगा।


कुछ दिन पहले तक भारत को युद्ध की धमकी देने वाले इमरान खान के तेवर अब ठंडे पड़ गए हैं। दुनियाभर में मुंह की खाने के बाद पाकिस्तान के हौसले पस्त हो गए हैं। इमरान खान ने यू-टर्न ले लिया है लेकिन उनके मंत्री पर जंग का भूत सवार है। पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद अहमद अब भारत के खिलाफ स्मार्ट वॉर की धमकी दे रहे हैं। उनका कहना है कि पाकिस्तान के पास पाव और आधा पाव के परमाणु बम हैं जो खास लक्ष्य को निशाना बना सकते हैं।


लेकिन बड़बोले मंत्री को शायद इस बात का खयाल नहीं है कि महीने भर के अंदर ही पाकिस्तान व्यापार पर से पाबंदी हटाने को मजबूर हो गया है। वहां जरूरी चीजों की कमी हो गई है। अब वो भारत से दवाओं का इंपोर्ट करेगा। लेकिन उसका दोगलापन देखिए कि वहां पिछले दिनों सिख और हिंदू लड़कियों का जबरन धर्म परिवर्तन करा दिया गया। इसके विरोध में दिल्ली में सिख समुदाय ने दिल्ली में पाकिस्तानी दूतावास के सामने विरोध प्रदर्शन किया। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। इधर कश्मीर में धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के 100 पंच और सरपंचों ने गृह मंत्री से मुलाकात की। सरकार ने भरोसा दिलाया है कश्मीर में जल्दी दी शांति बहाली हो जाएगी।


सवाल ये है कि क्या मोदी सरकार के दबाव में पाकिस्तान की अक्ल ठिकाने आ गई है? क्या भारत की कूटनीतिक जीत पाकिस्तान पर भारी पड़ रही है? पाकिस्तान समझ गया है या वो शांति का दिखावा कर रहा है? या इसके पीछे पाकिस्तान की कोई चाल है? और क्या भारत इमरान खान की बातों पर यकीन करे? इन्हीं सवालों पर आवाज़ अड्डा में हो रही है बड़ी बहस।


 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।