Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आवाज़ आंत्रप्रेन्योर: शौक को कारोबार में ढालने की कहानी

प्रकाशित Sat, 07, 2018 पर 18:26  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

घूमने फिर के शौकीन तेजस और देवेंद्र को सैफ्रन स्टे का आइडिया 2010 अपनी यूरेप ट्रिप पर आया जहां उन्हें एक विला मे अपनी फेमिली के साथ रहने का मौका है जो पूरी तरह इंडिपेंडेंट था लेकिन उन सभी सुविधाओं से लैस जो होटल में भी मिलती है। चार साल आइडिया को एक कारोबार में ढ़ालनें में लगे और उसके बाद इन्होंनें पीछे मुड़ कर नहीं देखा। सैफ्रन स्टे में हर प्रॉपर्टी धीरे-धीरे जोडी गई है। पहले कुछ घर और फिर विला को इनलिस्ट किया गया और हर नई प्रॉपर्टी के साथ कारोबार को बड़ा किया गया।


सैफ्रन स्टे का कासा ब्लांका, मुंबई से कुछ 65-70 किमी कि दूरी पर करजत में बसा ये विला इस माइक्रो-हॉस्पिटैलिटी स्टार्टअप के 50 प्रॉपर्टीज में से एक है। यहां आप अपने परीवार और दोस्तों के साथ आकर लॉन्ग वीकेंड का मजा ले सकतें हैं और अपको खाने के साथ घर जैसी फीलिंग  मिलेगी। तेजस और देवेंद्र परुऴेकर दोनों मियां-बीवी नें मिलकर 2014 में आपने खुद के कारोबार की नींव रखी और इस बढ़िया वैकेशन होम नेटवर्क की शुरूआत हुई।


वैकेशन होम्स का कारोबार काफी कैपिटल इनटेंसिव होता हैं और शुरूआती पूंजी जोडना इस दंपत्ती के लिए आसान नहीं था। अपनी खुद की जमा पूंजी से 1 करोड़ जुटा कर बिजनेस को शुरु किया। अपने पैशन को कोराबार में ढ़ालना जितना एक्साइटिंग लगता हैं उतना ही ये मुश्किल भी है। इस बात का अहसास इस फाउंडर जोड़ी को पहले चंद महिनों में ही हुआ। ट्रेवल क्षेत्र में लगातार बढता कंपटिशन, प्रॉपर्टी अधिग्रहण और मैनटेनंस की चुनौतियां, टेक का सही और असरदार इस्तेमाल एक-एक कर इन सभी चुनौतियों का तेजस और देवेंद्र ने सामना किया हैं और अपने कारोबार की नींव को और मजबूत भी किया है।


पिछले दो सालों मे 20000 से ज्यादा गेस्ट सैफ्रन स्टे में रह चुके हैं। हर महीने प्रति विला कमसे कम 1 लाख और ज्यादा से ज्यादा 4-5 लाख रुपये कि कमाई होती है। पिछले 2 सालों से उनकी अलग-अलग प्रॉपर्टी को तकरीबन 1100 से 1200 गेस्ट हर महीने इस्तेमाल कर रहें हैं जिससे लगभग 60-70 लाख का बिजनेस हर महीने  मिल जाता है। आज कपनी के पास 16 कर्मचारी है और इनकी प्रॉपर्टी को संभालने वाले स्टाफ को गिने तो लगभग 100 से 150 लोग सैफ्रन स्टेके साथ काम करते हैं। उनकी ट्रेनिंग और हर प्रॉपर्टी में सर्विस पर जोर देना सैफ्रन स्टे का मूल-मंत्र है।


कंपनी अब कारोबार को बढ़ाने पर जोर दे रही हैं और सिर्फ देश में ही नहीं बल्कि विदेश मे भी विस्तार के प्लान हैं जिसे हासिल करने के लिए नई पूंजी की जरुरत है। इसके लिए वेंचर कैपिटलिस्ट से बातचीत के बीच कंपनी अगले 7 सालों में 7 लाख होम्स को अपने साथ जोड़ने का लक्ष्य रखती हैं।