Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आवाज़ आंत्रप्रेन्योर: बच्चों के लिए Magic Crate का जादू

प्रकाशित Sat, 13, 2018 पर 16:30  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

विश्वनाथन आर और कार्तिक लक्ष्मण बचपन के दोस्त। अपने-अपने करियर और पर्सनल लाइफ में खुश और व्यस्त। इन दोनों नें पिता बनने के बाद महसूस किया कि अपने बच्चों को व्यस्त रखना कितना मुश्किल होता है। गैजैट्स और टीवी के बगैर बच्चों के दिमाग को कुछ पौष्टिक खाद देने की जरुरत होती है। कुछ ऐसी एक्टिविटीज जो मजेदार भी हो और जिससे दिमाग का विकास होने में मदद भी मिले। इसी जरुरत में विश्वनाथन आर और कार्तिक लक्ष्मण को MAGIC CRATE शुरू करने का आइडिया मिला। 2015 में शुरू हुआ MAGIC CRATE डायरेक्ट टू होम अर्ली चाइल्डहुड लर्निंग ब्रांड है। ये 14 साल तक के बच्चों के लिए इंक्वायरी एंड प्ले-बेस्ड लर्निंग प्रोग्राम मुहैया कराते हैं जो सब्सक्रिप्शन आधारित लर्निंग बॉक्स है।


कंपनी के पास प्रोडक्ट डेवलपमेंट टीम है जो इन एक्टिविटी बॉक्सेस को बनाने पर काम करती है। इस टीम में अर्ली चाइल्डहुड एक्सपर्ट्स हैं, जो बच्चों की उम्र और क्षमता के हिसाब से उन्हें क्या सिखाना चाहिए ये तय करते हैं फिर उसके मुताबिक प्रोडक्ट डिजाइनर्स एक्टिविटीज या खिलौने डिजाइन करते हैं। साथ ही इस टीम में पैरेंट्स भी शामिल हैं, यानि पैरेंटेस के नजरिए से भी लर्निंग एक्टिविटी की जांच की जाती है।


अगर किसी कंज्यूमर कैटेगरी को आकर्षित करना और अपनी तरफ बांधे रखना सबसे मुश्किल है तो वो है बच्चे, क्योंकि बच्चों को नई चीज काफी जल्द खींच लेती है। साथ ही उतनी ही जल्द बच्चे किसी चीज की दिलचस्पी खो भी देते हैं। ऐसे में हर वक्त उनकी पसंद और ध्यान का ख्याल रखते हुए MAGIC CRATE बॉक्सेस को दिलचस्प बनाना कंपनी के सामने सबसे बड़ा चैलेंज रहा है। इसलिए बच्चों को पसंद आए ऐसे दिलचस्प विषय जैसे रेन फॉरेस्ट, स्पेस, साइंस को मजेदार अंदाज में बनाने पर कंपनी का फोकस होता है। साथ ही बच्चों तक पहुंच बनाने का जरिया यानि पैरेंट्स को मनाना भी उतना ही जरुरी है।


कंपनी की कुल बिक्री में देश के 10 बड़े शहरों का 80 फीसदी का योगदान है, लेकिन अपनी पहुंच छोटे शहरों तक बनाने की कंपनी कोशिश में है। फिलहाल कंपनी अपनी वेबसाइट और अमेजॉन के बाद अब डिस्ट्रिब्यूशन के लिए मल्टीपल प्लैटफॉर्म का उपयोग कंपनी करने जा रही है। अपनी बचत से शुरू किए इस कारोबार में फाउंडर्स ने अब तक 3 वन 4 कैपिटल, फायरसाइड वेंचर्स और आरिन कैपिटल से कुल 20 लाख डॉलर की फंडिंग जुटाई है।


पिछले साल के 1 करोड़ के रेवेन्यू को इस साल कंपनी 20 करोड़ तक ले जाने की तैयारी में है। साथ ही अगले 3 सालों में 100 करोड़ के आंकडे को पार करने का लक्ष्य है। इस स्पेस में बिजनेस स्केल के बढ़िया मौके तो हैं लेकिन कंपिटीशन भी बढ़ रही है। Flintobox, PodSquad, Enchantico, Xplora Box, CocoMoco Kids जैसे 15 से अधिक नाम यहां अपनी जगह बनाए हुए हैं। आंत्रप्रेन्योर्स को बच्चे और पैरेंट्स ग्राहकों के इस दोहरे स्तर को पार करते हुए प्रोडक्ट डेवलपमेंट और मार्केटिंग की चुनौतियों को पार करते हुए कारोबार को आगे बढ़ाने का रास्ता बनाना है।