Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

टिकटॉक-हैलो ऐप पर बैन संभव, भेजी गई नोटिस

सरकार वीडियो शेयरिंग ऐप टिक टॉक और हैलो पर बैन लगा सकती है।
अपडेटेड Jul 18, 2019 पर 15:39  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सरकार वीडियो शेयरिंग ऐप टिक टॉक और हैलो पर बैन लगा सकती है। आईटी मंत्रालय ने इन ऐप्स पर की जानी वाली आपत्तिजनक और अवैध गतिविधियों पर कंपनी को नोटिस भेज कर जवाब मांगा है। आईटी मंत्रालय ने टिक टॉक और हैलो ऐप को 20 से ज्यादा सवाल भेजे है। इन सवालों में कंपनी से यूजर्स की सुरक्षा और निजता के साथ उनके डाटा की सुरक्षा पर पर जवाब मांगा गया है। साथ ही पूछा गया है कि बच्चे इसका इस्तेमाल कर रहें है इसको रोकने के लिए कंपनी क्या कर रही है।


सरकार ने कंपनी से पूछा है कि वह उपभोक्ता का कितना डाटा इक्ठ्ठा करती है। इस डेटा को वह सिंगापूर और अमेरिका के अलावा कहां स्टोर करती है। क्या कंपनी किसी तीसरे व्यक्ति से साथ डाटा शेयरिंग करती है और क्या कंपनी की भारत मे सर्वर लगाने की योजना है। 


कंपनी से ये भी पूछा गया है कि क्या वह 18 साल के कम उम्र वाले उपभोक्ताओं को किस तरह वेरीफाई करती है और क्या वह आईटी इंटरमिडियरी रुलस 2011 का पालन करती है। बच्चों की निजता का उल्लंघन करने पर FTC ने कंपनी पर 5.7 मिलियन डालर का जु्र्माना लगाया है क्या भारत में कंपनी ये नियम पालन करती है। कंपनी अपने प्लेटफार्म पर अपत्तिजनक कंटेंट हटाने के लिए क्या कर रही है।


कंपनी को 22 जुलाई तक अपना जवाब सरकार को देना होगा। जवाब नहीं देने की सूरत में कंपनी पर भारी जुर्माना लग सकता है और प्रतिबंधित भी किया जा सकता है। कंपनी ने इस मुद्दे पर सफाई देते हुए कहा है कि वह इस पर सरकार के साथ सहयोग कर रही है।