Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

बैंक जालसाजों की अब खैर नहीं!

प्रकाशित Wed, 14, 2018 पर 13:26  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नीरव मोदी जैसे घोटाले अब बैंकों में करना आसान नहीं होगा। सीएनबीसी-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक सभी सरकारी बैंकों में जालसाजी रोकने के लिए एक खास रणनीती बनाई गई है जिसके तहत कोर बैंकिंग सिस्टम का दायरा बढ़ाया जाएगा। कल वित्त मंत्रालय में इसको लेकर विस्तृत प्रजेंटेशन दिया जा सकता है।


सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सभी सरकारी बैंकों ने ठोस रणनीति तैयार की है। बैंकों के ईडी और चीफ टेक्निकल ऑफिसर ने ब्लू प्रिंट तैयार किया है। बताया जा रहा है कि बैंकों की ओर से विदेशी बैंकों जैसी रिस्क मैनेजमेंट व्यवस्था तैयार की जाएगी। ऑपरेशनल और टेक्निकल मोर्चे पर व्यापक सुधार किया जाएगा। लोन, एलओसी और एलओयू के लिए नया एसओपी तैयार किया गया है। वहीं कोर बैंकिंग सिस्टम में संवेदनशील ट्रांजैक्शन को जोड़ने की योजना है।


सूत्रों का कहना है कि बैंकों की ओर से बनाए जाने वाले सिस्टम के जरिए बड़े ट्रांजैशन की जानकारी सीनियर अधिकारी तक पहुंचेगी और गड़बड़ी होने पर सिस्टम खुद अलर्ट जारी करेगा। साथ ही सीनियर मैनेजमेंट की जवाबदेही का दायरा भी बढ़ाया जाएगा।