Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Big Bold Idea: भारत की प्रगति में Equity Market का अहम योगदान, अगले 50 साल में होगी जोरदार तरक्की

जैसे ही बीएसई के सेंसेक्स ने 50000 का जादुई आंकड़ा छुआ बाजार में जश्न और दिवाली का माहौल नजर आया
अपडेटेड Jan 21, 2021 पर 19:16  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सेंसेक्स के 50 हजार का आंकड़ा छूने का बाजार को पिछले कई दिनों से इंतजार था। आज जैसे ही बीएसई के सेंसेक्स ने 50000 का जादुई आंकड़ा छुआ बाजार में जश्न और दिवाली का माहौल नजर आया। निवेशकों और बाजार के दिग्गजों ने एक-दूसरे को इस उपलब्धि पर बधाई दी। इस ऐतिहासिक उपलब्धि पर सीएनबीसी-आवाज़ ने बीएसई के सीईओ आशीष चौहान से एक्स्क्लूसिब बातचीत की जिसमें आशीष चौहान काफी खुश नजर आये और इस उपलब्धि पर चैनल के साथ उन्होंने बेबाकी से अपनी बात रखी।


आशीष चौहान ने कहा कि कोरोना संकट के कारण पूरी दुनिया में चिंता व्याप्त थी लेकिन बीएसई के सेंसेक्स को कोरोना संकट भी रोक नहीं पाया। सेंसेक्स ने भारतीय अर्थव्यवस्था रुकने नहीं दी। इतना ही नहीं भारत की प्रगति में सेंसेक्स की भूमिका अहम रही है।


BSE के सीईओ आशीष चौहान ने सीएनबीसी-आवाज़ से बात करते हुए कहा इस समय हर व्यक्ति खुद को सेंसेक्स से जोड़ चुका है क्योंकि शेयर बाजार का पैसा उद्योगों में लगता है। भारत की प्रगति में सेंसेक्स का अहम महत्व है। इस समय सेंसेक्स भारत के दिल की धड़कन जैसा है।


आशीष चौहान ने आगे कहा कि सेंसेक्स के 50,000 के साथ भारत आगे बढ़ रहा है। इसके बाद देश को अगले 50 साल में जोरदार तरक्की करनी है। हर साल भारत प्रगति की ओर बढ़ रहा है। भारत की प्रगति में सेंसेक्स की भूमिका अहम रही है।


Sensex सेंसेक्स 50000 के पार होने का सफर


Sensex @ 3 April 1979                                    124


41 साल 9 महीना 18 दिन में                             50000


42 साल में 50,000 के पार                                 9561 सेशन


Sensex के 500 से 50000 के पार होने का सफर


500 से 50000 का सफर                                  8384 सेशन


25000 से 50000 का सफर                              1653 सेशन


सेंसेक्स 25000 से 50000                      6 साल 8 महीना 5 दिन


पहली बार कब हुआ था Sensex @ 25000


सेंसेक्स पहली बार 16 मई 2014 को @ 25000 का आंकड़ा छुआ था। इस दिन PM मोदी की अगुवाई में NDA को पूर्ण बहुमत मिला था।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।