Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

टेलीकॉम इक्विपमेंट कंपनियों को बड़ी राहत की तैयारी, मार्च से शुरू हो सकता है 5G सेवाओं का ट्रायल

मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए सरकार 8 प्रोडक्ट सिर्फ घरेलू कंपनियों से खरीदेगी
अपडेटेड Feb 20, 2020 पर 18:36  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

घरेलू टेलीकॉम इक्विपमेंट बनाने वालों को सरकार बड़ी राहत देने जा रही है। मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए सरकार 8 प्रोडक्ट सिर्फ घरेलू कंपनियों से खरीदेगी। सरकार की इस योजना से ITI/Tejas/Aksh Optical जैसी घरेलू कंपनियों को फायदा होगा। अब 8 प्रोडक्ट सिर्फ घरेलू कंपनियों से खरीदे जाएंगे। इसमें ऑप्टिकल फाइबर केबल, वायरलेस लेन जैसे प्रोडक्ट शामिल हैं। SDH, GPON, DWDM/CWDM सिस्टम, ब्रॉडबैंड सिस्टम भी इसमें शामिल हैं। सरकार IT सिस्टम से जुड़े प्रोडक्ट विदेशी कंपनियों से नहीं खरीदेगी। सरकार ने ये फैसला मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए लिया है।


इस बीच खबर है कि 5G सेवाओं का ट्रायल मार्च से शुरु हो सकता है। दूरसंचार विभाग ने टेलीकॉम कंपनियों से 5 जी सेवाओं के ट्रायल का ब्यौरा मांगा है। कंपनियों को आज सरकार को बताना होगा कि कंपनियां ट्रायल के दौरान कौन-कौन से 5जी सेवाएं शुरु करेंगी। ट्रायल में हाई-स्पीड इंटरनेट का टेस्ट संभव है। ट्रायल में मशीन-टू-मशीन कम्युनिकेशन भी संभव है। इस मुद्दे पर आज टेलीकॉम कंपनियों के साथ बैठक भी बुलाई गई है। अगले हफ्ते 5G स्पेक्ट्रम का आवंटन संभव। 4 कंपनियों ने 5G ट्रायल के लिए आवेदन किया है जिसमें Airtel, Voda, Jio, BSNL शामिल हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।