Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

ऑनलाइन रेल टिकट बुक कराना होगा महंगा, दोबारा सर्विस चार्ज लगाने की तैयारी

डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के मकसद से रेलवे ने ऑनलाइन बुक करने वाले टिकट पर सर्विस चार्ज हटा दिया था
अपडेटेड Aug 08, 2019 पर 13:11  |  स्रोत : Moneycontrol.com

रेल मुसाफिरों का खर्च थोड़ा बढ़ सकता है। अब अगर आप ऑनलाइन रेल टिकट बुक करते हैं तो अब आपको पहले से ज्यादा पैसा देना पड़ सकता है


दरअसल, रेलवे अब फिर से ऑनलाइन टिकट पर सर्विस चार्ज लगाने की तैयारी में है। मुंबई मिरर के मुताबिक, 3 अगस्त को रेल मंत्रालय ने एक लेटर भेजा है। इस लेटर में मंत्रालय ने ऑपरेटिंग कॉस्ट दोबारा वसूलने का फैसला किया है। इसमें मार्केटिंग और बिक्री सर्विस शामिल हैं।


कितना लगता था सर्विस चार्ज?


डिजिटल ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने के मकसद से रेलवे ने ई-टिकटों पर सर्विस चार्ज खत्म कर दिया था, लेकिन अब इसे फिर से वसूला जा सकता है। पहले सर्विस चार्ज स्लीपर टिकट पर 20 रुपये, AC बोगी में सीट के लिए 40 रुपये सर्विस चार्ज के रूप में देना पड़ता था। सर्विस चार्ज खत्म करने से IRCTC की कमाई पर असर पड़ा था, जिसकी भरपाई के लिए फाइनेंस मिनिस्ट्री ने 88 करोड़ रुपये का रिइम्बर्समेंट देने के लिए कहा था, लेकिन IRCTC के लिए इतनी रकम पर्याप्त नहीं थी।


रेलवे बोर्ड के ज्वाइंट डायरेक्टर ट्रैफिक कर्मशियल (जनरल) बीएस किरन की ओर से लिखे गए लेटर में फिर से सर्विस चार्ज लगाए जाने की बात कही गई है। हालांकि इस मामले में अभी  IRCTC के डायरेक्टर्स चर्चा करेंगे और तभी सर्विस चार्ज की दर तय की जाएगी।


नवंबर 2016 तक यात्रियों से ई-टिकटों पर सर्विस चार्ज वसूला जाता था। सर्विस चार्ज के जरिए इकट्ठा रकम का इस्तेमाल ई-टिकटिंग सिस्टम के लिए होता था।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (@moneycontrolhindi) और Twitter (@MoneycontrolH) पर फॉलो करें.