Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

चीनी शेयरों में तूफानी तेजी, जानिए ELARA CAP और ICICIdirect की क्या है इस सेक्टर पर राय

ब्राजील में गन्ने का उत्पादन घटने से भारतीय कंपनियों को फायदा होगा.
अपडेटेड May 04, 2021 पर 19:51  |  स्रोत : Moneycontrol.com

ब्राजील में उत्पादन घटने और देश में एथेनॉल ब्लेंडिंग के 422 प्रस्तावों को मंजूरी से चीनी शेयरों में तूफानी तेजी दिख रही है। KCP, SAKTHI KOTHARI SUGAR और DWARIKESH SUGAR इस हफ्ते 25- 30 फीसदी तक भागे हैं। आइए जानते हैं इस तेजी की वजह।


ELARA CAP की रिपोर्ट, शुगर में ब्राजील एंगल


इस साल ब्राजील में गन्ने की फसल कमजोर हो सकती है। ब्राजील में गन्ने का उत्पादन घटने से भारतीय कंपनियों को फायदा होगा। ब्राजील में खराब मॉनसून से कम बुआई होने की आशंका है। गन्ने की कम फसल से शुगर का उत्पादन 10 फीसदी घटने का अनुमान है। ब्राजील में उत्पादन घटने से ग्लोबल सप्लाई-मांग पर असर दिखेगा।



सरकार के कई फैसलों के चलते भी शुगर शेयरों की मिठास बढ़ी है। सरकार से इंटरेस्ट सबवेंशन स्कीम के तहत 422 प्रस्ताव मंजूर किए हैं। सबवेंशन स्कीम स्कीम के तहत 1684 करोड़ लीटर क्षमता होगी। एथेनॉल ब्लेंडिंग प्रस्ताव पर 42000 करोड़ निवेश संभव है। चीनी से एथेनॉल उत्पादन को सरकार की मंजूरी मिल गई है। अतिरिक्त गन्ना उत्पादन से एथेनॉल उत्पादन को बढ़ावा मिला है। साल 2022 तक पेट्रोल में 10% एथेनॉल मिलाने को मंजूरी मिल गई है। साल 2025 तक डीजल में  20% एथेनॉल मिलाने को मंजूरी मिली है। पिछले 3 सीजन में चीनी मिलों की आय 22000 करोड़ रुपए पहुंच गई है।


आईसीआईसीआई डायरेक्ट की राय


आईसीआईसीआई डायरेक्ट  ने भी शुगर सेक्टर में कायापलट की बात कही है। आईसीआईसीआई डायरेक्ट ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि शुगर इन्वेंटरी में तेज गिरावट होगी। सितंबर तक सिर्फ 8 Million टन टन की शुगर इन्वेंटरी बचेगी। सितंबर 2019 में इन्वेंटरी करीब 14.5 Million टन थी। ये सेक्टर 2 मैट्रिक टन शुगर एथेनॉल ब्लेंडिंग के लिए भी देगा। सरकार 2025 तक पेट्रोल में 20% एथेनॉल ब्लेंडिंग चाहती है। कमी को पूरा करने के लिए कंपनियां जमकर क्षमता बढ़ा रही हैं। 2025 तक 1,000 करोड़ लीटर एथेनॉल की मांग होगी। एथेनॉल की ज्यादा मांग शुगर कंपनियों के लिए फायदेमंद होगी। पिछले 2 सालों में एथेनॉल की कीमतों में जोरदार इजाफा हुआ हुआ है।


 



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.