Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

कार डीलरों का धंधा पड़ा मंदा, कई शोरुम बंद

प्रकाशित Thu, 16, 2019 पर 10:55  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कारों की बिक्री की धीमी रफ्तार ने डीलरशिप का चक्का जाम कर दिया हैं। डीलर्स के एसोसिएशन FADA के मुताबिक पिछले 20 महीनो में ही देश भर में 250 से भी ज्यादा ऑटो डीलर्स में अपनी दुकान बंद कर ली हैं। गाड़ियों की कम बिक्री डीलरों पर भारी पड़ रही है। उनका धंधा मंदा पड़ता जा रहा है। नतीजा की कई शहरों में छोटे-बड़े डीलर्स अपनी दुकानें बंद कर रहे हैं। डीलर्स के एसोसिएशन FADA के सर्वे के मुताबिक पिछले 20 महीनों में मुंबई में 34, दिल्ली में 27 डीलर अपना बिजनेस समेट चुके हैं। छोटे शहरों की भी हालत अच्छी नहीं है। पुणें में 24 तो पटना में 14 और कोच्ची में 11 डीलरशिप बंद हुई हैं। देश के दूसरे राज्यों में भी तेजी से शोरूम्स बंद हो रहे हैं। ऑटो मैन्युफैक्चर्स की बात करें तो सबसे ज्यादा निसान के 44, हुंडई के 39, रेनॉल्ट के 21, टाटा मोटर्स और महिंद्रा के 20-20 डीलरों ने शोरूम बंद किए हैं।


ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन SIAM ने अप्रैल की बिक्री में बड़ी गिरावट दर्ज की है। स्थिति कितनी खराब है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि ऑटो सेक्टर की बिक्री में गिरावट अक्टूबर 2011 के बाद सबसे बड़ी है। हालात ये हैं कि कस्टमर्स को लुभाने के लिए डीलरों के बीच गलाकाट होड़ मची है। इस होड़ ने रही-सही कसर भी पूरी कर दी है।


कारों की घटती बिक्री के साथ डीलरशिप की कमायी भी लगातार घट रही हैं ऐसे में शोरूम का किराया, कर्मचारियों की तनख़्वाह और बाक़ी ऑपरेशनल कोस्ट का बढ़ता बोझ डीलर्स को शोरूम बंद करने पर मजबूर कर रहा हैं।