Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

FSSAI के कड़े नियम तैयार, BIS सर्टिफाइड होगा मवेशियों का चारा

नेशनल मिल्क सर्वे में आईं खामियों को देखते हुए फूड रेगुलेटर FSSAI ने कड़े नियम बनाए हैं।
अपडेटेड Dec 12, 2019 पर 17:43  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नेशनल मिल्क सर्वे में आईं खामियों को देखते हुए फूड रेगुलेटर FSSAI ने कड़े नियम बनाए हैं। नए नियम के मुताबिक मवेशियों के चारे को BIS सर्टिफाइड होना जरूरी होगा। SSAI के नए नियमों के मुताबिक मवेशियों के चारा BIS सर्टिफाइड होगा। नए नियम जून 2020 से लागू होंगे। National Milk Survey के बाद FSSAI ने ये निणर्य लिया है। National Milk Survey में दूध कंपनियों के सैंपल में एफ्लाटॉक्सिन M-1 मिला है। अन्य कैमिकल मिलने के बाद FSSAI का ये आदेश आया है।  Survey के दौरान कुछ सैंपल में पेस्टीसाइड और हेवी मेटल मिले हैं। दूध की क्वालिटी सुधारने के लिए FSSAI का कैटल फीड के स्टैंडर्ड्स बनाने पर जोर है। जांच से पता चला है कि खराब चारे की वजह से दूध में कैमिकल्स मिल रहे हैं। नया स्टैंडर्ड बनने तक BIS मार्क वाला चारा अनिवार्य होगा।


 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।