Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

फिल्में देखकर स्लोडाउन का डर भगा रहे लोग? जानिए, क्यों अच्छा चल रहा है Cinema Business

देश की सिनेमा इंडस्ट्री ने पिछले कुछ महीनों में बाकी उद्योगों के धीमा पड़ने के बावजूद अच्छा बिजनेस देखा है
अपडेटेड Oct 10, 2019 पर 09:51  |  स्रोत : Moneycontrol.com

इस इकोनॉमिक स्लोडाउन में कारों से लेकर खाने-पीने तक की चीजों पर असर पड़ा है। कहीं कारमेकर कंपनियां अपना प्रोडक्शन बंद कर रही हैं तो कहीं बिस्किट बनाने वाली बड़ी कंपनी अपने कर्मचारियों को नौकरी से निकाल रही है। वहीं बेरोजगारी भी बेतरतीब बढ़ी है लेकिन देश में एक सेक्टर है, जो इस स्लोडाउन में भी अच्छा बिजनेस कर रहा है।


देश की सिनेमा इंडस्ट्री ने पिछले कुछ महीनों में बाकी उद्योगों के धीमा पड़ने के बावजूद अच्छा बिजनेस देखा है और इसके आगे भी अच्छा करने की उम्मीद है।


देश में सबसे ज्यादा मल्टी-स्क्रीन थिएटर्स ऑपरेट करने वाले ग्रुप PVR Pictures के चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर कमल ज्ञानचंदानी ने हाल ही में livemint के साथ एक इंटरव्यू में बताया था कि जून में कबीर सिंह रिलीज होने के बाद से बॉक्स ऑफिस पर छोटी बजट की फिल्मों और कम पहचान रखने वाले कलाकारों की फिल्में भी ऑडियंस इकट्ठा कर रही हैं। उन्होंने कहा था कि जुलाई-सितंबर में सिनेमा इंडस्ट्री ने चौंकाने वाला बिजनेस किया था।


ज्ञानचंदानी ने कहा था कि उन्हें लगता है कि स्लोडाउन के चलते सिनेमा इंडस्ट्री को एक तरह से फायदा हुआ है क्योंकि बाजार में निगेटिविटी है, जिससे बचने के लिए लोग सिनेमा का रुख कर रहे हैं।


ज्ञानचंदानी ने बताया कि क्रिकेट वर्ल्ड कप के चलते अप्रैल-जून तिमाही में सिनेमा इंडस्ट्री पर असर पड़ा था लेकिन अब इंडस्ट्री उस इफेक्ट से उबर चुकी है। हां, लेकिन Edelweiss Securities Ltd. की अगस्त में आई रिपोर्ट की मानें तो इकोनॉमिक स्लोडाउन के चलते एडवर्टाइजर्स ने अभी हाथ खींच रखे हैं।


Bloomberg के एक सर्वे में 26 में से 17 मार्केट एनालिस्ट्स ने PVR स्टॉक को खरीदने की सलाह दी है। वहीं Inox Leisure Ltd. को लेकर भी विश्लेषकों की कुछ ऐसी ही राय है।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।