Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

स्वच्छ भारत अभियान का रियलिटी चेक

प्रकाशित Wed, 03, 2018 पर 08:13  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

4 साल पहले गांधी जयंती पर ही स्वच्छ भारत अभियान शुरू हुआ। ये पूरा आंदोलन गांधी जी को समर्पित है। लेकिन हकीकत ये ही है कि स्वच्छता अभियान हर जगह सफल नहीं हो सका है।  देश की राजधानी दिल्ली के दिल कनॉट प्लेस का हाल ये है कि साफ-सफाई में खास बदलाव नहीं आया है। सफाई कर्मचारी यहां कभी-कभी आजे हैं। अस्पतालों में हर जगह गंदगी है। लोग मेट्रो में थूकने से बाज नहीं आते। सारी गलतियां सरकार की नहीं कुछ हमारी भी हैं। देश की संसद की बात करें तो संसद परिसर में कचरे का राज है। यहां इधर-उधर कचरा बिखरा हुआ है। यहां कूड़ेदान हैं मगर इस्तेमाल नहीं होते।